अहंकार इंसान को हैवान बना देता है : श्री-श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज

जालंधर(विनोद मरवाहा)
अखिल भारतीय दुर्गा सेना संगठन की तरफ से साप्ताहिक मां बगलामुखी हवन यज्ञ का आयोजन श्री प्राचीन शिव मंदिर, दोमोरिया पुल में किया गया। श्री दुर्गा सेना संगठन के अध्यक्ष श्री-श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज की अध्यक्षता व गुरु मां नीरज रतन सिकंदर जी के पावन सानिध्य में आयोजित हवन यज्ञ के दौरान भक्तों ने पावन आहुतियां दी।
इस अवसर पर श्री-श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज ने कहा कि अहंकार इंसान को हैवान बना देता है। रावण तपस्वी, वीर और महा बलवान था लेकिन उसके अहंकार ने उसका और उसके कुल का नाश कर दिया था। उन्होंने कहा कि अहंकार मानव की मति को विवेकहीन बना देता है। उसके पास ये सोचने के लिए समय नहीं होता कि उसने जन्म किसलिए और किन कर्मों को करने और किन उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए लिया है। केवल अपने स्वार्थों की पूर्ति के लिए मनुष्य जन्म नहीं है। परमार्थ और परोपकार कोई भी अहंकारी व्यक्ति नहीं कर सकता है क्योंकि हर अच्छे कार्य के बीच उसका अहंकार बीच में आ जाता है।
श्री स्वामी जी ने कहा कि अहंकार एक मनोविकार है एक मानसिक दुर्बलता है। इंसानों को समय रहते अपने अहंकार को छोड़ देना चाहिए। बड़बोलेपन को त्याग देना चाहिए और सहज सरल एवं सफल जीवन की ओर निरंतर बढ़ने के लिए प्रय}शील रहना चाहिए। जिससे मनुष्य जीवन को आत्मसंतुष्टि के साथ सफल करते हुए सार्थक कर सकें।
इस अवसर पर इस अवसर पर संगठन के पंजाब प्रधान विशाल शर्मा, जालंधर प्रधान वैभव शर्मा, रशपाल सिंह, कोमल, महक, राकेश जैन, राज कुमार वर्मा, सुरिंदर भगत, आशु शर्मा, साहिल वर्मा, धीरज पाहवा, करण वर्मा, नरेश मौदगिल, अश्वनी कपूर, राजेश सेठ, मोहित जैन, कुसम गुप्ता, मनोज शर्मा, अशोक थापर, कृष्ण कुमार, अशोक चड्डा, रमेश भल्ला, अश्वनी शर्मा, दमन कपूर, दीपक कुमार, जसपाल, अमन, निखिल, राकेश महाजन, लीना महाजन, रिया शर्मा, रीता शर्मा, उषा शर्मा, लक्ष्मी शर्मा, सुनील मल्होत्रा, पूजा शर्मा, परवीन हांडा, अरुण शर्मा, अश्वनी मल्होत्रा, पंकज सिक्का, राजू लूथरा, सौरभ शर्मा, राजेश भारद्वाज, विनय शर्मा, मोनिका शर्मा, राजू शर्मा, कृष्ण बब्बर, सुरजीत लूथर, संजय सेतिया, केवल कृष्ण, युग त्रेहन, शालू छाबड़ा, मोहित सिक्का, हिना कपूर, करण गुप्ता, दविंदर अरोड़ा, बब्बू शर्मा, मुकेश सहदेव, धीरज मेहता, राहुल शर्मा, नवीन जिंदल आदि के नाम उल्लेखनीय हैं।