आमवात गठिया रोग पर आयुर्वेदिक सेमिनार करवाया गया

लुधियाना(राजन मेहरा)
सनत आयुर्वेदिक फार्मा के सहयोग से लुधियाना के होटल नागपाल रिजेंसी में आमवात रोग पर आयुर्वेदिक सेमिनार करवाया गया।जालंधर के दयानन्द आयुर्वेदिक कॉलेज से डॉ कुलदीप सिंह पनवर ने इसमें विशेष वक्ता के तौर पर भाग लिया। कार्यक्रम की शुरुआत ज्योति प्रज्वलन और धन्वन्तरि गुणगान से की गई।
ततपश्चात डॉ राहुल जैन ने आये हुए सभी चिकित्सकों का अभिवादन किया और मुख्य वक्ता के बारे में जानकारी दी। डॉ पनवर ने अपने अभिवादन में कहा कि आमवात रोग के लिए आयुर्वेद चिकित्सा सर्वोत्तम है,क्योंकि ये रोगी की बीमारी को जड़ से समाप्त करने की शक्ति रखती है। रोगी की साम-निराम अवस्था,दोष दुष्य इत्यादि को ध्यान में रखकर चिकित्सा करनी होती है। शरीर मे आम संचय होने से बचना चाहिए।अन्यथा रोग उतपत्ति में कारण बनता है। जिम में व्यायाम करने से पूर्व अगर कोई खाद्य पदार्थ लिए जाते है तो वो आम उतपन्न कर सकते है। इसलिए व्यायाम से पहले खाना खाने का आयुर्वेद शास्त्रो में निषेध किया गया है। आयुर्वेद में आमवात रोग पर कार्य करने वाली एकल जड़ीबूटियां,शास्त्रीय योग,स्वर्ण से बने योगों पर विशेष चर्चा हुई।


इसके पश्चात प्रश्न उत्तर सम्भाषा सेशन के दौरान सभी चिकित्सकों की संशय को दूर किया गया। इसके पश्चात सभा मे लुधियाना के आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ रविन्द्र वात्स्यायन और डॉ योगेश बंसल का समाज मे विशेष योगदान देने के लिए सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम के पश्चात सनत फार्मा द्वारा आमवात रोग पर अपना नया प्रोडक्ट लांच किया गया। जिसमें डॉ पनवर,डॉ गौहर वात्स्यायन, डॉ मोहित वैद, डॉ नीरज अरोड़ा,डॉ नेत्री मिश्रा,डॉ विशाल शर्मा द्वारा केक काटा गया।इसके पश्चात डॉ रविन्द्र वात्स्यायन ने आये हुए सभी चिकित्सकों का धन्यवाद किया। समारोह में 60 से अधिक लुधियाना के चिकित्सकों ने भाग लिया। इनके अलावा कार्यक्रम में डॉ ईश हांडा,डॉ रोहित शर्मा,डॉ पंकज गुप्ता,डॉ सुनीत अरोड़ा,डॉ परमिंदर मोदगिल, डॉ प्राण गुप्ता इत्यादि चिकित्सको नेभी भाग लिया।