कांग्रेस की तरफ से सुखबीर -मजीठिया को सलाखें पीछे फेंकने का ऐलान!

अमृतसर(हलचल नेटवर्क)
रक्खड़ पुनिया के ऐतिहासिक मेले मौके कांग्रेस की तरफ से बाबा बकाला में करवाई गई राजनैतिक कान्फ़्रेंस में बेअदबी का मुद्दा ही छाया रहा। बेअदबी मुद्दे पर कार्यवाही न होने के कारण कैबिनेट मंत्री सुखजिन्दर रंधावा ने कांग्रेसी वर्करों में लगातार बढ़ रहे गुस्से बारे कहा कि इस पर हर हाल एक्शन होगा। उनहोंने यहाँ तक कह दिया कि सुखबीर बादल को गिरफ़्तार करके सलाखें पीछे फेंका जायेगा। रंधावा के निशाने पर बिक्रम मजीठिया भी रहे। मजीठिया की तरफ से कांग्रेसियों को गद्दार कहने पर रंधावा ने कहा कि बिक्रम मजीठिया बादल का डीएनए करवाए। बादल पहली बार कांग्रेस की टिकट पर विधायक बने था। इस के साथ ही उन कहा कि मजीठिया के दादे परदादे कांग्रेसी नेताओं के पैरों में बैठे होते थे। बिक्रम के परिवार ने अंग्रेज़ों की मुखबरी करके ज़मीनें बनाईं जिस के बदले महाराजा दलीप सिंह के माता जिन्दा को भी गिरफ़्तार करवाया।
केंद्र सरकार पर हमला बोलते उन कहा कि मोदी ने अल्पसंख्यकों को ख़त्म करन की ठानी हुई है। सुखबीर बादल ने लोगों की पीठ में छुरा मारा है। धारा 370 पर मोदी का समर्थन करन वाले सुखबीर बादल भूल गए हैं कि केंद्र की तोप का मुँह पंजाब की तरफ भी हो सकता है। उन बादल पर हमला करते कहा कि बादल को फखरे कौम नहीं गद्दारी कौम का अवार्ड देना चाहिए। रंधावा ने भरोसा दिया कि सफ़ेद बेचने वाला जीजे साले को बाहर नहीं रहने देना। उन को सलाखें पीछे कर कर दिखाऐंगे।