काउंटर रेल टिकट कैंसिल होने के साथ ही ढीली होगी जेब

जालंधर(विनोद मरवाहा)
रेलवे की नई व्यवस्था के तहत हेल्पलाइन नंबर 139 पर काउंटर टिकटों का कैंसिलेशन तो हो जाएगा, साथ ही रेल उपभोक्ताओं की जेब भी ढीली हो जाएगी। कैंसिलेशन की प्रक्रिया पूरी होने के दौरान रेल उपभोक्ता के दस से 15 रुपये खर्च हो जाएंगे। ऊपर से किराया में से कैंसिलेशन चार्ज भी कट जाएगा। मोबाइल में पैसा नहीं होने पर 139 पर काल भी नहीं जाएगा। सामान्य तरीके से 139 पर टिकट कैंसिलेशन की प्रक्रिया पूरी करने में पांच से सात मिनट लग जाएंगे। इससे अधिक समय भी लग सकता है। समय जितना अधिक लगेगा उतना ही पैसा भी खर्च होगा। वैसे भी हेल्पलाइन नंबर 139 पर काल करते ही दो रुपये कट जाते हैं। हालांकि, अचानक यात्र में बदलाव वाले यात्रियों को नई व्यवस्था से सहूलियत मिलेगी। उन्हें तुरंत टिकट कैंसिल कराने के लिए तुरंत रेलवे स्टेशन नहीं जाना पड़ेगा। हेल्पलाइन नंबर पर कुछ पैसे खर्च कर किराए के कुछ पैसे बचा सकते हैं। यहां जान लें कि मोबाइल पर काउंटर टिकट कैंसिल हो जाएगा। लेकिन रिफंड लेने के लिए उपभोक्ताओं को काउंटर पर जाना पड़ेगा। शाम छह से सुबह छह बजे तक की ट्रेन के लिए दूसरे दिन रेलवे खिड़की खुलने के दो घंटे में रिफंड लेना होगा। सुबह छह बजे के बाद की ट्रेन के लिए प्रस्थान समय के चार घंटे तक रिफंड लेना होगा।