कैप्टन अमरिंदर सिंह बनाएंगें नया राजनैतिक दल

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह जल्द ही अपनी नई पार्टी बनाने का ऐलान करने वाले हैं। सूत्रों के अनुसार कैप्टन की नई पार्टी का नाम ‘पंजाब विकास पार्टी’ होगा। सूत्रों के अनुसार अपनी नई पार्टी के गठन पर विचार करने के लिए कुछ ही दिनों में कैप्टन अपने करीबी नेताओं की एक बैठक बुलायेंगे जिसमें सिद्धू विरोधी गुट के तमाम नेता शामिल होंगे।
पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को हराना पहला लक्ष्य
कैप्टन पहले भी कह चुके हैं कि पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष नवजोत सिंह को हराना उनका पहला लक्ष्य है। ऐसे में उनकी नव गठित पार्टी की ओर से सिद्धू के खिलाफ आगामी विधानसभा चुनाव में एक मजबूत दावेदार को चुनावी मैदान में उतारा जायेगा। इस बीच कैप्टन पंजाब के तमाम किसान नेताओं से भी सम्पर्क साधेंगे। साथ ही कुछ छोटे दलों को भी अपने साथ लाएंगे।
मैं 52 साल से राजनीति में हू, लेकिन उन्होंने मेरे साथ ऐसा व्यवहार किया
गौरतलब है कि गुरुवार को अमरिंदर सिंह ने कहा था, मैं 52 साल से राजनीति में हू, लेकिन उन्होंने मेरे साथ ऐसा व्यवहार किया। साढ़े दस बजे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मुझसे कहा कि आप इस्तीफा दे दो। मैंने कोई सवाल नहीं पूछा। चार बजे मैं राज्यपाल के पास गया और इस्तीफा दे दिया। अगर 50 साल के बाद भी आप मुझ पर संदेह करेंगे.. मेरी विश्वसनीयता दांव पर है और कोई भरोसा नहीं है, तो ऐसे में पार्टी में रहने का कोई मतलब नहीं है।
अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस पार्टी छोड़ने का कर दिया ऐलान
अपने इसी बयान के बाद अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस पार्टी छोड़ने का भी ऐलान कर दिया था। हालांकि उन्होंने ये स्पष्ट किया कि वे कांग्रेस जरूर छोड़ रहे हैं लेकिन बीजेपी में शामिल नहीं होंगे। उन्होंने ये भी कहा कि कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की तरफ से उन्हें जिस अपमान का सामना करना पड़ा, उससे वे बेहद आहत हैं।
साल 1984 में ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद कैप्टन ने कांग्रेस छोड़ दी थी
उल्लेखनीय है कि ये पहली बार नहीं जब कैप्टन ने कांग्रेस पार्टी छोड़ने का ऐलान किया है। कैप्टन साल 1980 में लोकसभा का चुनाव तो कांग्रेस के चुनाव चिन्ह से जीते थे लेकिन साल 1984 में ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी थी और अकाली दल में चले गए थे। इसके बाद वे 1998 में फिर से कांग्रेस में शामिल हो गए थे।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.