कोरोना काल में रिहा हुए कैदियों को अब लौटना होगा जेल

जालंधर(हलचल नेटवर्क)
पैरोल पर गए कैदियों की ऐश अब खत्म हो गई। ऐसे में अब उन्हें दोबारा से अंबाला की सेंट्रल जेल में लौटना होगा। यह फैसला 11 फरवरी को हाई पावर्ड कमेटी के आदेशों पर लिया गया है। कमेटी के आदेश पर ही कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए प्रदेश की जिलों से कुल 2580 कैदियों को पैरोल पर छोड़ा गया था। इनमें अंबाला सेंट्रल जेल के करीब दो सौ कैदी शामिल है। आदेशों के अनुसार कैदियों को 23 फरवरी से वापस जेल में आकर सरेंडर करना होगा। जेल प्रशासन कैदियों को नौ फेस (यानी जिस तारीख से जिस कैदी को पैरोल दी गई थी) में बुलाया जाएगा। बता दें इससे पहले कैदियों को 31 दिसंबर तक उनकी पैरोल को बढ़ा दिया गया था। बता दें 28 मार्च को जिला जेल में बंद सात साल से कम सजा वाले कैदियों को राहत दी गई थी। उस दौरान करीब दौ सौ कैदियों को पैरोल पर छोड़ा गया था।