खालिस्तानियों द्वारा पंजाब को पुनःआतंकवाद की भट्ठी में झौंकना महज मुंगेरी लाल का सपना-संजीव देम

लुधियाना(राजन मेहरा)
पिछले दिनों गुरदासपुर में शिवसेना हिन्दुस्तान के उत्तर भारत प्रमुख हनी महाजन पर हुए जानलेवा हमले का मामला अभी शांत नहीं हुआ कि बटाला में शिवसेना नेता रमेश नैय्यर के भाई की किडनैप करके हत्या करने की घटनाओं से एक बात तो स्पष्ट है कि खालिस्तानी आतंकी सँगठनों व् रिफ्रेंडम 2020 के गुरपतवंत पन्नू द्वारा पंजाब को पुनः आतंकवाद की भट्ठी में झौंकने का प्रयास किया जा रहा है जो महज मुंगेरी लाल के सपने से ज्यादा कुछ भी नहीं है। उपरोक्त शब्द शिवसेना हिंदुस्तान के कार्यकारी पंजाब प्रधान संजीव देम ने प्रेसनोट रिलीज करते हुए अपने सम्बोधन में कहे।संजीव देम ने कहा कि हिन्दू नेताओं पर हमले करके जो खालिस्तानी आतंकी समर्थक यह समझते है कि वे पंजाब में हिन्दू सिख के नाखून मांस के रिश्ते में दरार डालने की अपनी गंदी सोच को कामयाब कर लेंगे वह भूल कर भी ऐसी भूल करने की कोशिश न करें क्योंकि पंजाब में हिन्दू सिख मिलकर देशविरोधी खालिस्तानी सोच को मुँहतोड़ जवाब देंगे।संजीव देम ने कहा कि पंजाब में अमन शांति स्थापित करने हेतु 35000 पंजाबियों,भारतीय सेना,सीआरपीएफ व् पंजाब पुलिस के जवानों की शहादत को व्यर्थ नहीं जाने दिया जाएगा व् किसी भी कीमत पर देश विरोधी ताकतों द्वारा खालिस्तान बनाने का सपना नहीं पूरा होने दिया जाएगा।संजीव देम ने केंद्र सरकार,पंजाब सरकार व् डीजीपी पंजाब से आग्रह करते हुए कहा कि पिछले दिनों छुप कर हिन्दू नेताओं पर हमला करने वाले देश के गद्दारों को काबू करके फांसी पर लटकाया जाए।