जियो के बाद अब vodafone-idea के ग्राहकों को झटका

जालंधर(विशाल कोहली)
देश की टेलीकॉम कंपनियों की वित्तीय सेहत बेहद बुरे दौर मैं है ऐसे में अब लगता है कि कंपनियों के पास मोबाइल सेवाएं महंगी करने के अलावा कोई चारा नहीं बचा है. जहां पहले रिलायंस जियो ने नॉन जियो नेटवर्क पर कॉल करने के लिए 6 पैसा प्रति मिनट की दर से आईयूसी वसूलने का फैसला लिया था वहीं अब वोडाफोन आइडिया ने भी अपने 30 करोड़ से ज्यादा मोबाइल ग्राहकों को झटका दिया है.
1 दिसंबर से महंगी होंगी सेवाएं
रिलायंस जियो के बाद अब vodafone-idea ने अपनी मोबाइल और डाटा सेवाएं 1 दिसंबर से महंगी करने का एलान कर दिया है. हालांकि कंपनी ने यह नहीं बताया है कि सेवाएं कितनी महंगी होंगी. वोडाफोन आइडिया लिमिटेड ने कहा, ” भारत में जहां एक और मोबाइल डाटा सेवाओं की मांग तेजी के साथ बढ़ रही है. वही मोबाइल डाटा शुल्क दुनिया में सबसे कम है. टेलीकॉम सेक्टर पर अत्याधिक वित्तीय दबाव सबके सामने हैं. कैबिनेट सचिव की अध्यक्षता वाली कमेटी ऑफ सेक्रेट्रीज इस मामले में उपयुक्त राहत देने पर विचार कर रही है. vodafone-idea अपने ग्राहकों को वैश्विक स्तर की डिजिटल सेवाएं देते रहने के लिए 1 दिसंबर 2019 से अपने टैरिफ की कीमतों में उपयुक्त बढ़ोतरी करेगी.”
क्यों बढ़ रही है कीमतें
टेलीकॉम क्षेत्र में पहले जियो और अब vodafone-idea के ऐलान के बाद आप तकरीबन तय मानकर चलिए कि जल्द ही अन्य टेलीकॉम कंपनियां जैसे भारतीय एयरटेल और बीएसएनएल भी अपने टैरिफ बढ़ा सकती हैं. दरअसल टेलीकॉम सेक्टर फिलहाल बेहद वित्तीय दबाव झेल रहा है. एक अनुमान के मुताबिक टेलीकॉम सेक्टर पर फ़िलहाल 700000 करोड रुपये से ज्यादा का कर्ज है. वहीं दूसरी तरफ हाल ही में सुप्रीम कोर्ट में केस हारने के बाद भारती एयरटेल और vodafone-idea जैसी कंपनियों को 100000 करोड रुपये से ज्यादा चुकाने होंगे. ऐसे में जाहिर सी बात है कि इससे कंपनियों की वित्तीय सेहत को और ज्यादा झटका लगा है इसीलिए कंपनियां अपने नुकसान को कम करने के लिए अब टैरिफ बढ़ा रही हैं.

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.