जेल के कैदी ने निगले चार मोबाइल

जालंधर(हलचल नेटवर्क)
अति सुरक्षा वाले हर्ष विहार स्थित मंडोली जेल में कैदियों तक मोबाइल फोन किस तरह पहुंचता है। इसका अंदाजा इस खबर से लगाया जा सकता है। यहां एक कैदी ने एक-एक कर चार मोबाइल फोन निगल लिए थे। इसमें तीन फोन कैदी ने उल्टी कर निकाल लिए, लेकिन चौथा मोबाइल पेट में फंस गया। दिक्कत होने पर उसे अस्पताल पहुंचाया गया। यहां डॉक्टरों ने उसके पेट का ऑपरेशन कर चौथा मोबाइल फोन निकाला। ताहिरपुर स्थित राजीव गांधी सुपरस्पेशियलिटी अस्पताल में चार-पांच डॉक्टरों की टीम ने ऑपरेशन किया। कैदी की पहचान अनुज (25) के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि उस पर कई मामले दर्ज हैं। इस संबंध में पूछे जाने पर जेल के प्रवक्ता राजकुमार ने घटना की पुष्टि की है। हालांकि उनका कहना है कि कैदी के पेट से एक ही मोबाइल फोन निकला है।


अस्पताल सूत्रों ने बताया कि मंडोली जेल से अनुज नामक कैदी को यहां लाया गया था। उसके पेट में काफी दर्द हो रहा था। डॉक्टरों ने उससे पूछा तो कैदी ने बताया कि उसने चार मोबाइल निगल लिए थे। तीन मोबाइल तो उल्टी के जरिये बाहर निकल गए, लेकिन एक पेट में चला गया है। इसके बाद उसकी अल्ट्रासाउंड जांच की गई। उसमें मोबाइल का पता चला। इसके बाद डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर दो सेंटीमीटर यानी करीब दो अंगुलियों के आकार के मोबाइल फोन को बाहर निकाला। मोबाइल फोन पर टेप लगा रखा था। ऑपरेशन के बाद कैदी को वार्ड में भर्ती किया गया है। उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है। इलाज करने वाले डॉक्टरों को मरीज ने ही बताया कि वह पहले कई बार इसी तरह से मोबाइल जेल में ले जा चुका है। जेल में वह मोबाइल को इसी तरह छिपाकर रखता है।