ज्ञान का संवर्धन करती है मथुरा लीला : आचार्य

जालंधर(योगेश कत्याल)
श्री बांके बिहारी भागवत प्रचार समिति की तरफ से साईं दास स्कूल की ग्राउंड में जारी श्रीमद भागवत कथा के छठवें दिन कथा के प्रारंभ में ही रूहानी अमृतमय वर्षा शुरू हुई और श्रोताओं ने कथा का रसपान किया।

कथा व्यास आचार्य गौरव कृष्ण गोस्वामी महाराज ने बांके बिहारी की मथुरा लीला की विस्तार से विवेचन करते हुए कहा कि प्रभु श्री कृष्ण की मथुरा लीला जीव के हृदयांधकार को नष्ट कर ज्ञान का विकास करती है। इस ज्ञान के माध्यम से जीव पूर्ण ब्रम्हा श्रीकृष्ण से साक्षात्कार करता है। उन्होंने कहा कि परमात्मा श्री कृष्ण ने अपनी मथुरा लीला में अज्ञान रूपी कंस का उद्धार कर ज्ञान का संवर्धन किया। यहां तक की साक्षात बृहस्पति के शिष्य उद्धव के ज्ञान को प्रभु ने गोपियों द्वारा भक्ति का चादर ओढ़ाकर परिपूर्ण किया।

श्री आचार्य जी के अनुसार स्वयं परमात्मा श्री कृष्ण ने मथुरा लीला में ही गुरु सांदीपनी के सानिध्य में चौसठ दिनों तक रहकर ज्ञान प्राप्त किया। अत: प्रभु की मथुरा लीला श्रवण करने मात्र से भक्त के हृदय में ज्ञान का उदय होता है। उन्होंने बताया कि यदि विद्यार्थी अध्ययन काल में यदि प्रभु की मथुरा लीला को श्रवण करता है, तो निश्चित रूप से विद्या के क्षेत्र में अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है।


आज विशेष महोत्सव के रूप में रुक्मिणी विवाह महोत्सव बहुत धूम-धाम से मनाया गया। इस प्रसंग पर विस्तार से व्याख्यान देते हुए आचार्य श्री ने कहा कि श्री रुक्मणी जी ने जीवन में किए हुए सत्कार का फल केवल प्रभु को ही मांगा । इसको कि प्रभु श्री द्वारिकाधीश ने स्वयं रुक्मणी के कुडिंनपुर जाकर रुक्मणी को प्रधान पटरानी बनाकर पूर्ण किया । यह पवित्र प्रसंग सभी को शिक्षा प्रदान करता है, जीवन में किए गए सत्कार के फल के रूप में प्रभु की ही याचना करनी चाहिए। कल विशेष महोत्सव के रूप में फूल होली महोत्सव विशिष्ट तैयारी व हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा।
इस अवसर पर डीसीपी (ट्रैफिक) नरेश डोगरा, एसीपी रणजीत सिंह,इस अवसर परडीसीपी नरेश डोगरा, एसीपी रंजीत सिंह, संस्था के प्रधान सुनील नैय्यर, बृजेश कुमार जुनेजा, उमेश ओरी, संजय सहगल, संदीप मलिक, बृजमोहन चड्ढा, चंदन वडेरा, रिंकू मल्होत्र, भूपेंद्र बिल्ला, राहुल बाहरी, नरेंद्र वर्मा, सुमित गोयल, अश्विनी कुमार आशू, विकास ग्रोवर, विशाल शर्मा, हेमंत थापर, सुमन सहगल, हितेन्द्र तलवार, दविंदर अरोड़ा, मनीष गुप्ता, गोपी वर्मा, विपन मल्होत्रा, अरुण, दविंदर, विनोद, केवल अग्रवाल, रमेश किरण कटारिया, नीलम मल्होत्रा, अंजू शर्मा, खुशी कत्याल, कृष्णा बेदी, अभी वर्मा, पंकज अरोड़ा, रचना कत्याल अंजू बाला, निहारिका सोंधी, मुकेश ग्रोवर, जे.के.कटारिया, किरण कटारिया, पवन मल्होत्रा, नीलम मल्होत्रा, पूनम वालिया, डॉ. अंजू, प्रियंका ग्रोवर, मीनू सूद, सुभाष प्रभाकर, हरीश महेन्द्रू, अश्वनी मिनट, गुरप्रीत, राजीव चौहान, तरुण चौहान व अन्य मौजूद थे।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.