डिपो होल्डर और अधिकारी आपसी मिली भगत से डाल रहे गरीबों के पेट पर डाका

भाजपा के हरियाणा में दूसरे शासनकाल में भी सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) सवालों के घेरे में है। पलवल में गरीबों को मिलने वाले राशन में 20 से 25% कटौती करके ही राशन वितरित किया जाता है। भारतीय जनता पार्टी की जीरो टॉलरेंस नीति यहां पर पूरी तरह निष्फल है क्योंकि गरीबों को मिलने वाले राशन में डिपो होल्डर द्वारा डकैती की जा रही है और यह डकैती बगैर अधिकारियों की मिलीभगत के संभव नहीं है। पलवल दयानंद स्कूल के पीछे भाटिया कॉलोनी में डिपो होल्डर परवीन को गरीबों को राशन बांटने का जिम्मा दिया गया है जहाँ दर्जनभर गरीब राशन लेने के लिए डिपो पर आते हैं। यहां इन गरीबों से पूछे जाने पर बताया कि डिपो होल्डर द्वारा 20 से 25% कटौती करके ही राशन दिया जाता है। उन्होंने बताया कि एक यूनिट पर प्रदेश सरकार की पीडीएस प्रणाली के तहत 5 किलो गेहूं दिया जाता है। लेकिन डिपो होल्डर 5 किलो की बजाय प्रति यूनिट 4 किलो ही देते हैं पूरा मांगने पर कह देते हैं कि वहां से लो जहां आपको पूरा मिलता हो। यानी कि पूरे पलवल शहर में डिपो होल्डर गरीबों के हक पर कटौती करके ही राशन बांटने का काम कर रहे हैं। गरीबों ने बताया कि यह उनकी मजबूरी है यदि पूरे 5 किलो राशन की जिद करते हैं तो वह इतने से भी हाथ धो बैठेंगे फिर जितना मिल रहा है उतना भी नहीं मिलेगा। पूरे शहर में सभी डिपो होल्डर कटौती करके ही राशन बांटने का काम कर रहे हैं। एक उपभोक्ता ने बताया कि इस क्षेत्र में केवल एक ही डिपो होल्डर है जो पूरा राशन बांटता है वरना जितने भी डिपो होल्डर हैं सभी राशन कम करके ही देते हैं।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.