दिल्ली में तेज आंधी तूफान ने बिगाड़ दिया किसानों के धरना स्थल का सीन, उखाड़ दिए सभी टेंट, देखें तस्वीरें

नई दिल्ली/सोनीपत
केंद्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे धरना प्रदर्शन में लगे टेंट गत देर रात आए आंधी तूफान की वजह से उखड़ गए। इस आंधी तूफान की वजह से सभी धरना स्थलों को नुकसान पहुंचा है। यहां लगे टेंट उखड़ गए, गर्मी को ध्यान में रखकर रखे गए पंखे और कूलर सहित अन्य चीजों को भी नुकसान पहुंचा है। जिस टेंट में आंदोलनकारियों के भोजन पकाने की व्यवस्था होती थी, वह भी उड़ गया। आंदोलन स्थल पर बिजली व्यवस्था भी पूरी तरह से ठप हो गई है। आंदोलनकारी दिनभर व्यवस्था बनाने में ही जुटे रहे।


गत रात को करीब 11 बजे तेज आंधी आई। आंधी इतनी तेज थी कि न सिर्फ आंदोलन स्थल के सभी टेंटों को उड़ाकर दिया, बल्कि वहां लगे हुए कूलर, पंखे व अन्य सामान भी आंधी में उड़कर काफी दूर जाकर गिरे। चारपाइयां व गद्दे भी आंधी में उड़ गए।


कुंडली बार्डर पर कृषि कानून विरोधियों का आंदोलन सिंघु बार्डर पर 26 नवंबर, 2020 से चल रहा है। करीब छह माह से ज्यादा समय से आंदोलनकारी हाईवे पर ही डटे हुए हैं।