नगर निगम कर रहा है किसी बड़े हादसे का इंतजार: एबीवीपी

कूड़े के डंप में लगाई गई आग से उठता हुआ धुंआ
नगर निगम ज्वाइंट कमिश्नर आशिका जैन को मांगपत्र सौंपते हुए एबीवीपी एस.एफ.डी कन्वीनर अर्जुन त्रेहन, आयुर्वेदिक कॉलेज उपाध्यक्ष जैसमिन, लतीका मिगलानी व अन्य।

जालंधर(गगन अरोड़ा)
एबीवीपी की नगर इकाई द्वारा आज ज्वाइंट कमिश्नर आशिका जैन को मांग पत्र सौंपा गया। एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने अपने इस मांग पत्र में नगर निगम अधिकारियों की अकुशल कार्यशैली की कठोर निंदा करते हुए कहा है कि वे जालंधर शहर के समाज की जान के साथ खेल रहे हैं।
उनका यह भी कहना है कि पंजाब इलेक्ट्रिसिटी बोड, चुगिट्टी चौक से लेकर ब्यास मैनेजमेंट बोर्ड सरकारी रिहाशी एरिया तक बड़ा कूड़े का डंप है जिस में आए दिन आग लगी रहती है। ब्यास मैनेजमेंट बोर्ड सरकारी रिहाशी एरिया के लोगों द्वारा एबीवीपी जालंधर इकाई को संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया कि वे कई बार नगर निगम जालंधर को दरख्वास्त लगा चुके हैं पर नगर निगम द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई। वह इस करके उन्होंने एबीवीपी को संपर्क किया। उन्होंने बताया कि पंजाब इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड के अंदर कुछ ऐसे पदार्थ हैं जिन्हें अगर आग की चिंगारी भी लग जाए तो आधा शहर खत्म हो सकता है। उन्होंने बताया कि पूरे पंजाब भर में कई शहरों मैं यहीं से बिजली सप्लाई होती है पर नगर निगम कोई बड़ी घटना घटने का इंतजार कर रहा है।
आज स्टेट कार्यालय मंत्री आदर्श कुमार, एबीवीपी एस.एफ.डी कन्वीनर अर्जुन त्रेहन, आयुर्वेदिक कॉलेज उपाध्यक्ष जैसमिन, लतीका मिगलानी, गायत्री, अनिकेत धारा ने नगर निगम ज्वाइंट कमिश्नर आशिका जैन को इस समस्या का जल्दी से जल्दी हल करने का मांग पत्र सौंपा गया। ज्वाइंट कमिश्नर आशिका जैन ने इस समस्या का जल्दी से जल्दी हल करने का आश्वासन एबीवीपी नगर इकाई को दिया। इस बीच एबीवीपी के प्रदेश मंत्री चिरांशु रतन ने कहा है कि नगर निगम के कुछ पदाधिकारी स्वच्छ भारत हेतु फोटो सेशन से परे हट के अपने कर्मचारियों के साथ भारत को स्वच्छ बनाने का काम करें ताकि भारत स्वच्छ हो सके।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.