पंजाब में 100 करोड़ की फर्जी बिलिंग का पर्दाफाश, तीन आरोपी पकड़े

(हलचल नेटवर्क)
श्री फतेहगढ़ साहिब में प्रदेश के वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) विभाग ने तीन लोगों को गिरफ्तार करने के साथ कुछ ऐसी फर्म के नेटवर्क का पर्दाफाश करने का दावा किया है जो जाली बिलों के आधार पर इनपुट टैक्स विभिन्न संस्थाओं को दिलवा रही थीं.
विभाग के सूत्रों के अनुसार मंडी गोबिंदगढ़ की मेसर्स तरुण स्टील इंडस्ट्रीज, मेसर्स फॉरच्यून एलॉय्स एंड मेटल्स और मेसर्स ब्रॉडवेज सेल्स कार्पोरेशन ने मिलीभगत से 19़ 83 करोड़ टैक्स की संलिप्तता वाले 100 करोड़ रुपये के फर्जी बिल जारी किए.
इन फर्मों की तरफ से विभिन्न बैंकों से 96़ 24 करोड़ रुपये निकाले गये. फर्मों ने बिल जारी किए पर माल की कोई मूवमेंट नहीं हुई और राज्य के सरकारी खजाने को 19़ 83 करोड़ रुपए की चपत लगाई गई. प्रकरण में राजिंदर बस्सी, तरुण बस्सी और मनीष पाल को गिरफ्तार किया गया है जो क्रमश: तरुण स्टील इंडस्ट्रीज, ब्रॉडवेज सेल्स कार्पोरेशन और फॉर्चून एलॉय्स एंड मेटल्स के मालिक हैं. इन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. विभाग ने इन फर्मों के खातों के दस्तावेज, लैपटॉप और मोबाइल फोन जब्त किये हैं और जांच अभी जारी है.

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.