पंजाब विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने की सीईसी बैठक, 9 विधायकों के नाम कटना तय!

जालंधर/ हलचल न्यूज़
पंजाब विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी ने शनिवार को केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) की पहली बैठक बुलाई। यह बैठक वर्चुअल तौर पर आयोजित की गई। दरअसल कोविड-19 को देखते हुए कांग्रेस पार्टी ने शीर्ष नेतृत्व से जुड़ी सभी बैठकों को वर्चुअल बैठकें रखने का फैसला किया है। इसी के मद्देनजर पंजाब विधानसभा चुनाव के ऐलान से ठीक पहले कांग्रेस पार्टी ने सुबह 11 बजे यह बैठक की। पार्टी की इस सीईसी बैठक से पहले उम्मीदवारों के नाम के चयन को लेकर पंजाब कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की अब तक 4 दौर की बैठकें दिल्ली में हो चुकी हैं। इस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने पंजाब के प्रभारी हरीश चौधरी, पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और कैंपेन कमेटी के चेयरमैन सुनील जाखड़ व अन्य कई नेताओं से चर्चा कर करीब 35 उम्मीदवारों के नाम पर आम सहमति बनने के बाद केंद्रीय चुनाव समिति को इन नामों को सौंप दिया है। फिलहाल शनिवार को हुई इस बैठक में करीब 25 उम्मीदवारों के नामों पर चर्चा हुई। सूत्रों के अनुसार शनिवार को 15 से 16 नामों पर सीसी ने अंतिम मुहर लगा दी है। ऐसे में उम्मीद लगाई जा रही है कि पार्टी 15 उम्मीदवारों के नाम अगले कुछ दिनों में ऐलान कर देगी। हालांकि एक खास बात यह है कि पंजाब कांग्रेस के नौ सीटिंग विधायकों के नाम इस बार चुनाव में काटे जा सकते हैं। वहीं दूसरी ओर स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने यह पहले ही साफ कर दिया है कि पंजाब में एक परिवार से एक ही सदस्य को पार्टी का उम्मीदवार बनाया जाएगा। पार्टी इसका कड़ाई से पालन करेगी। गौरतलब है कि चुनाव आयोग पंजाब सहित पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों की घोषणा शनिवार को कर सकता है। 117 सदस्यीय पंजाब विधानसभा में कांग्रेस ने साल 2017 में 77 सीटों पर जीत दर्ज की थी। सूत्रों के अनुसार इस बार कांग्रेस पार्टी लगभग 68 मौजूदा विधायकों को टिकट देकर चुनाव मैदान में उतारने की तैयारी कर रही है। इनमें से 10 ऐसे विधायक चिह्न्ति किए गए हैं, जिनके टिकट पर संशय बना है। वहीं 9 विधायकों का टिकट कटनी लगभग तय माना जा रहा है। इनमें से अधिकतर विधायक पूर्व मुख्यमंत्री और पीएलसी के प्रधान कैप्टन अमरिंदर सिंह के करीबी बताए जा रहे हैं। तीन विधायक पहले ही कैप्टन के साथ जा चुके हैं, पार्टी के वरिष्ठ सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है। उम्मीद लगाई जा रही है कि जनवरी के दूसरे सप्ताह में पंजाब को लेकर कांग्रेस पार्टी द्वारा केंद्रीय चुनाव समिति की सहमति के बाद पहली सूची जारी कर दी जाएगी।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.