प्राकृतिक आपदाओं को रोकने को हवन जरूरी : श्री – श्री 108 स्वामी सिकंदर महाराज

जालंधर(विनोद मरवाहा)
हवन करवाने से व उसमें भाग लेने से तन के कष्टों से तो छुटकारा मिलता है, साथ ही प्राकृतिक आपदाओं से हवन हमारी रक्षा करते हैं। इसलिए समय-समय पर अपने घर व प्रतिष्ठान पर हवन अवश्य करवाना चाहिए।
उक्त आशीर्वचन आज अखिल भारतीय दुर्गा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री – श्री 108 स्वामी सिकंदर महाराज जी ने प्राचीन शिव मंदिर, नजदीक दोमोरिया पुल में कोरोना वायरस को भारत सहित पूरे विश्व से भगाने के लिए करवाए गए मां बगलामुखी साप्ताहिक हवन यज्ञ को विश्राम देते हुए कहे l
श्री – श्री 108 स्वामी सिकंदर महाराज जी ने विश्व कल्याण की कामना के लिए हवन में आहूति दी l उन्होंने बताया कि हवन पूजा इस महामारी को खत्म करने का उपाय है। कहा कि जब आदि काल में विज्ञान नहीं था तब साधू-संत हवन-यज्ञ कर महामारी या समस्या से निजात पाते थे l उन्होंने आह्वान किया कि हर सनातनी अपने घर हर हफ्ते हवन यज्ञ कर माँ बगलामुखी व अपने इष्ट देवता की आराधना करें l उन्होंने वहीं समाज से अपील करते हुए कहा कि अब लोगों को कुकर्म छोड़ने चाहिए क्योंकि भगवान ने कोरोना के माध्यम से अपना प्रकोप पूरे विश्व में दिखाया है। सभी देशवासियों को अच्छे कर्म करने चाहिए ताकि भगवान सभी प्राणियों से खुश रहें।


इस मोके विशेष रूप से उपस्थित गुरु मां नीरज रतन सिकंदर ने कहा कि प्राचीन काल में प्रतिदिन हवन होता था जिससे वातावरण पर अच्छा प्रभाव रहता था । आज हम अपनी प्राचीन संस्कृति को भूलते जा रहे हैं जिसकी सार्थकता को आज के विज्ञान ने भी स्वीकार किया है।
हवन के दौरान पंडित चक्रधर सहित अखिल भारतीय दुर्गा सेना के पंजाब अध्यक्ष विशाल शर्मा, जालंधर अध्यक्ष वैभव शर्मा, मीडिया प्रभारी राकेश महाजन, कमल मेहता, मनसा राम, अमित गुप्ता, अश्वनी यादव, जतिंदर कपिला, शंकर दास, रोहित शर्मा, मोहित जैन, लक्ष्मी शर्मा, ममता, राधा अरोड़ा आदि उपस्थित रहे।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.