बाबा बुड्ढा जी पार्क के खस्ता हालात के मुख्य जिम्मेवार इलाका पार्षद एवं मेयर :प्रदीप खुल्लर

जालंधर(योगेश कत्याल)
भारतीय जनता पार्टी जिला जालंधर शहरी के उपाध्यक्ष एवं एक नूर वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष प्रदीप खुल्लर ने अपने साथियों सहित 120 फुटी रोड पर स्थित बाबा बुढ़ा जी पार्क की खस्ता हालत को देखते हुए नगर निगम जालंधर एवं पंजाब सरकार की पोल खोली। भाजपा उपाध्यक्ष प्रदीप खुल्लर ने बताया कि धन- धन बाबा बुड्ढा जी के नाम पर 120 फुटी रोड पर एक नगर बस हुआ है। इस नगर के पास ही एक छोटी सी पार्क है जिसका नाम बाबा जी के नाम पर रखा गया है।

यह पार्क वार्ड नं.73 एवं 74 के पास बनी है पर नगर निगम जालंधर के मेयर श्रीमान जगदीश राज राजा एवं नगर निगम कमिश्नर श्रीमान करणेश शर्मा, निगम कर्मचारियों एवं दोनों वार्डो के पार्षद की ओर से कभी भी इस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया। पार्क गंदगी का अड्डा बना हुआ है। पार्क में बच्चों के मनोरंजन के लिए जो झूले लगाए गए हैं वह सभी झूले टूटे पड़े हैं।

उसका सामान खुर्दपुर कर दिया गया है। पार्क में जो साफ पीने के पानी का ट्यूब लगा हुआ है उसके बिजली कनेक्शन की तारे नंगी पड़ी है जो आने वाले समय में किसी बड़ी दुर्घटना का कारण बन सकती है। पार्क के अंदर एक ट्रांसफार्मर लगा था वह ट्रांसफार्मर तो कहीं बाहर शिफ्ट कर दिया गया है पर बिजली विभाग की ओर से उस जगह का लेवल नहीं किया गया। जिससे वह खड्डे पड़े है जिसे काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पार्क में खुले में शौचालय बना हुआ है जो सही नही है। पार्क में बैठने के लिए जो टेबल एवं कुर्सियां लगाए हैं वह लगभग टूटी पड़ी है। पार्क में बैठकर लोग ताश/जुआ खेलते है।

सबंधित थाने की पुलिस कोई करवाई नही करती। पार्क में नशे की बोतले, कैप्सूल के खाली पैकेट एवं तम्बाकू गुटका के खाली पैक्ट भरे पड़े है। पार्क के अंदर एवं बाहर की स्टीट लाइट टूटी पड़ी है जो नही जलती जिसका फायदा नशेड़ी एवं चोरों को मिलता है। जिसका जिमेवार नगर निगम है। पार्क में पीने के पानी एवं पेड़ो को देने वाले पानी का कोई इंतजाम नही है। पार्क में कई सालों से सफाई सरकार की और से नही करवाई गई। चारो और पत्तो, शराब की बोतलों, लबां लम्बा घास एवं और गंदगी से भरा पड़ा है।

पार्क के प्रवेश द्वार के सामने गंदे पानी का तलाब लगा हुआ है। जिसे लोगों के बीमार होने का खतरा है क्योंकि मच्छर हर समय वहां टिमटमता रहा है। पार्क में बड़े-बड़े खास के पौधे बने हुए हैं। पार्क में किसी प्राइवेट कंपनी की काफी तारों का जमावड़ा पड़ा हुआ है। जिससे उस विभाग ने इस पार्क पर नजायज कब्जा किया हुआ है। इसके अलावा पार्क के चारों और अंदर एवं बाहर कूड़े गंदगी के ढेर लगे हुए हैं। पार्क की हालत इतनी खस्ता है कि वहां बैठना हो तो साथ मे बीमारियां घर लाने के बराबर है। खुल्लर ने कहा कि पार्क की खस्ता हालत के मुख्य जिम्मेवार इलाका पार्षद एवं मेयर साहब है। अगर नगर निगम पार्क की देख भाल नही कर सकता तो पार्क की देख रेख सेवा सम्भाल की जिमेवारी हमारी संस्था एकनूर को दे दो।

जिला भाजपा उपाध्यक्ष प्रदीप खुल्लर ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, जालंधर बेस्ट के विधायक श्री सुशील कुमार रिंकू , जालंधर नगर निगम के मेयर जगदीश राज राजा, जालंधर के डिप्टी कमिश्नर एवं नगर निगम कमिश्नर करनेश शर्मा को निवेदन किया कि जिन पार्कों जिन चौकों एवं जिन सरकारी व गैर सरकारी पब्लिक प्लेस ओं का नाम शहीदों एवं महापुरुषों के नाम पर रखा गया है उनकी देखरेख अच्छी तरह होनी चाहिए ताकि हमारी आने वाली पीढ़ियां वहां से कुछ प्रेरणा ले सकें कि अगर हम आजादी का आनंद ले रहे हैं वह सिर्फ इन शहीदों एवं महापुरुषों की बदौलत। जितने भी चौक महापुरुषों के नाम पर बने हैं जहां शहीदों के नाम पर बने हैं जितने भी पार्क शहीदों एवं महापुरुषों के नाम पर बनी है लगभग सभी पार को एवं चौकों की हालत बहुत खस्ता है। सरकार सिर्फ पैसे इकट्ठे करने में लगी हुई हैं। बाकी किसी भी कार्य में सरकार की कोई दिलचस्पी नहीं है। भाजपा उपाध्यक्ष प्रदीप खुल्लर ने यहां तक कहा कि साढे 3 वर्षों में पंजाब की कैप्टन सरकार ने पंजाब का बेड़ा गर्क कर दिया है। लोग कांग्रस की सरकार पंजाब में और राजा को जालन्धर का मेयर बना कर ठगा ठगा सा महसूस कर रहे है। इस मौके प्रदीप खुल्लर ने यह भी कहा कि अगर पार्क की देखरेख प्रबंधक कमेटी या नगर निगम नहीं कर सकती तो पार्क की देखभाल की जिम्मेदारी हमारी संस्था एक नूर वेलफेयर सोसाइटी रजिस्टर्ड पंजाब को दी जाए तथा इस पार्क को इलाके की सबसे सुंदर पार्क बनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेंगें। इस समय प्रदीप खुल्लर के साथ कमल कुमार विंकल बिल्ला दीपक सिंह राठौर राजकुमार भगत एकमप्रीत सिंह मौजूद थे।

 

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.