बारिश ने खोली विकास के दावों की पोल, सड़कों पर भरा पानी

बठिंडा (कमल कटारिया/नितिन दीक्षित)
पांच साल तक शिरोमणि अकाली दल और ढाई साल तक कांग्रेस सरकार शहर में पानी की निकासी के लिए ड्रेनज सिस्टम को दुरुस्त करने के बड़े-बड़े दावे करती रही लेकिन इन दोनों पार्टियों के बड़े-बड़े दावों की पोल सोमवार रात को हुई प्री मॉनसून बारिश ने खोलकर रख दी तो आने वाली बारिश में शहर का क्या हाल होगा इसका अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है। बारिश ने पूरे शहर को जलमग्न कर दिया। तेज पड़ रही गर्मी की मार झेलने के बाद बरसात से लोगो को गर्मी से निजात तो जरूर मिली पर सड़कों पर जमा बारिश के पानी ने लोगो का घरों से निकलना मुश्किल कर दिया। तेज बरसात के कारण शहर के अधिकांश मुख्य बाजारों में पानी भर गया ऐसे में लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। देर सांय तक शहर से पानी नहीं निकल पाया था। बरसात से शहर के सिरकी बाजार, पावर हाउस रोड, माल रोड, रेलवे रोड, पोस्ट आफिस बाजार के अलावा परस राम नगर, प्रताप नगर आदि इलाकों में जमा हुए पानी के बीच वाहन चालक दिन भर परेशान होते दिखाई दिए। अब ऐसा लगने लगा है कि आमजन की समस्याओं से स्थानीय प्रशासन को कोई लेना देना ही नहीं है। लोगों ने मांग की है कि बारिश के पानी की निकासी का कोई ठोस प्रबंध किया जाए। लोगों का यह भी कहना है कि यदि समय रहते सुरक्षा व सफाई व्यवस्था के इंतजाम नहीं किए गए तो मानसून के सीजन में शहर का डूबना लगभग तय है।
आज की बारिश से शायद कांग्रेस सरकार के मत्रियों की नींद खुल जाये और वो देख सकें कि आम जनता को कितनी परेशनियों का सामना करना पड़ रहा है।