बिजली के बढ़े दाम का करेंगे विरोध, कैप्टन सरकार को घेरने के लिए बनाई रणनीति

(हलचल पंजाब नेटवर्क)
पंजाब सरकार द्वारा हाल ही में बढ़ाए गए बिजली के रेट किसी के भी गले से नीचे नहीं उतर रहे हैं।
बिजली के रेटों से जहां आम व गरीब लोग बढ़ाए गए बिजली के रेटों को जमकर कोस रहे हैं वहीं सरकार के विरोधी पक्ष शिरोमणि अकाली दल, आम आदमी पार्टी समेत अब अल्पसंख्यक दलित पंजाब ने भी सरकार के खिलाफ बिजली के बढ़ाए दामों को लेकर घेरने की तैयारी की है।
अकाली दल के विधानसभा हलका अमलोह, फतेहगढ़ साहिब के इंचार्ज गुरप्रीत सिंह राजू खन्ना ने बिजली के बढ़ाए रेट को लेकर एक बैठक बुलाई जिसमें सरकार को जमकर कोसते कहा कि बिजली के बढ़ाए गए रेटों पर उद्यमी नमोशी के आलम में है। किंतु आम लोग दस रुपए प्रति यूनिट देने के हक में नहीं हैं।
सरकार को 2017 के चुनावी घोषणा पत्र की याद दिलाते हुए राजू खन्ना ने कहा कि सरकार ने इंडस्ट्री समेत हर वर्ग को पांच प्रति यूनिट देने का वादा किया था किंतु बिजली के डबल रेट होने से सरकार अपने वादे से मुकर रही है और सरकार को वोट देने वाले लोग खुद को ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं। सरकार अपने वादे से मुकर चुकी है अब 12वीं बार बिजली रेटों में भारी विस्तार करके उद्योगपतियों और आम लोगों पर भारी वित्तीय बोझ डाल दिया गया है।
सरकार पर आरोप लगाते खन्ना ने कहा कि सरकार बनने के बाद कांग्रेस ने लोगों के साथ धोखा किया है जिसे शिरोमणी अकाली दल कभी भी बरदाश्त नहीं करेगा। सरकार को घेरने के लिए आम लोगों को साथ लेकर बहुत जल्द रणनीति बनाई जा रही है।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.