बेअंत सिंह के हत्यारे राजोआना की फांसी की सजा को उम्र कैद में बदलने वाले मोदी को जेड सुरक्षा हटाकर अपनी सुरक्षा में बब्बर खालसा के आंतकियों को लगा लेना चाहिए : ईशान्त शर्मा

जालन्धर (विशाल कोहली)शिव सेना हिन्द के पंजाब अध्यक्ष ईशान्त शर्मा की अध्यक्षता में जालन्धर में डीसी को राष्ट्रपति के नाम मांग पत्र सौपा गया। इस मोके ईशान्त शर्मा ने बताया कि शिव सेना हिन्द की तरफ से पंजाब भर के सभी जिलों में डीसी को ज्ञापन सौंपे गए है। उन्होंने बताया कि मोदी के इशारों पर गृह मंत्रालय ने पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या के आरोपी बलवंत सिंह राजोआना की फांसी की सजा को उम्रकैद में बदल दिया है जो कि बेहद ही निंदनीय कदम है। उन्होंने कहा कि जिस बेअंत सिंह को पंजाब से आतंकवाद खत्म करने का क्रेडिट दिया जाता है. उनकी हत्या 31 अगस्त, 1995 को कर दी गई थी। इस अपराध में बलवंत सिंह राजोआना को अदालत ने दोषी करार देते हुए 31 मार्च, 2012 को फांसी की तारीख तय की गई थी और अब वोटो की राजनीति के लिए मोदी ने राजोआना की फांसी को उम्र कैद में बदल कर आंतकवाद की मार झेल चुके पंजाब के लोगों के हृदय पर आघात किया है। उन्होंने कहा कि अगर मोदी को बब्बर खालसा के आंतकियों से इतना ही लगाव है तो मोदी अपनी जेड सिक्युरिटी हटा कर बब्बर खालसा के आंतकियों को अपनी सुरक्षा में लगा ले ।


पंजाब भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कि पंजाब बीजेपी के नेता अपना स्टैंड साफ करे कि वह इस फैंसले के खिलाफ केंद्र सरकार का पुतला फूंकेंगे या समर्थन करते हुए लड्डू बांटेंगे। उन्होंने कहा कि मोदी का ये फैंसला आंतकवाद पीड़ित लोगों के साथ धोखा है। उन्होंने कहा कि हम सरकार से मांग करते है कि जल्द से जल्द ग्रह मंत्रालय को अपना फैंसला बदलकर निर्दोषों के हत्यारे राजोआना को फांसी पर लटकाना चाहिए।
उन्होंने कहा कि अनेकों जानो के हत्यारे को फांसी न देना मोदी सरकार द्वारा पंजाब की जनता से बहुत बड़ा अन्याय है। उन्होंने कहा की खालिस्तान आंतकियों को खुश करने के लिए मोदी सरकार गन्दी राजनीति कर रहे है। उन्होंने कहा कि केंद्र के इस फैंसले से आंतकवादियो से लड़ने वालों के होंसले टूटे है। उन्होंने कहा कि आंतकियों से लड़ने वाले शहीद हो गए मगर आंतकी तो आज भी जेलों जिंदा है।
औऱ आंतकियों से पीड़ित परिवार लंबे अरसे से इंतजार में थे कब उन के पारिवारिक सदस्यों के हत्यारे को मौत की सजा मिलेगी मगर मोदी के इस फैंसले में हज़ारों लोगों को आंसू बहाने के लिए छोड़ दिया है। मोदी को शहीद परिवारों की विधवाओं व अनाथों के आँसू नजर नही आये। इस मौके पर दोआबा प्रधान मुनीश बाहरी, उत्तर भारत प्रवक्ता सुभाष महाजन, उत्तर भारत उप चेयरमैन काला बाबा, पंजाब उप प्रधान मोहित वर्मा, सनी कलियान उत्तर भारत वाईस चेयरमैन, जिला युथ प्रधान विनय कपूर, वेस्ट प्रधान सूरज, जिला चेरमान नरिंदर मिठू, रिकय लूथर, राहुल गिल, मोहित कलियान, अर्जुन, विक्की शर्मा सिटी प्रधान मलही आदि हाजिर रहे।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.