मात्र प्रभु का नाम ही है जो मनुष्य के साथ जाता है बाकी सब धरती पर रह जाता है :- नवजीत भारद्वाज

जालंधर (योगेश कत्याल)
आवागमन के चक्कर से प्रभु नाम का संकीर्तन ही छुटकारा दिलाता है, हमें काम करते हुए भी प्रभु का सिमरन करते रहना चाहिए, एवं मात्र एक प्रभु का नाम ही है जो मनुष्य के साथ जाता है बाक़ी सब यही धरती पर रह जाता है, उक्त विचार माँ बंगलामुखी धाम (रजि.) गुलमोहर सिटी, होशियारपुर रोड़, नज़दीक लम्मा पिंड चौंक के जालंधर में वीरवार को करवाए सप्ताहिक माँ बंगलामुखी हवन यज्ञ में धाम के संचालक नवजीत भारद्वाज ने आए हुए माँ भगतों से कहे,
इस दौरान पंडित पिंटू शर्मा और पंडित अविनाश गौतम ने नवग्रह, पंचोपचार, षोढषोपचार, गौरी गणेश, कुंभ पूजन करवा कर विशेष तौर से आए यजमान प्रिंस से हवन यज्ञ में आहुतियां डाल कर आवाहन कर माँ का गुणगान किया, साथ ही धाम के संचालक नवजीत भारद्वाज ने कहा भक्ति करने वाला कभी चिंतित, हताश, दुःखी, असमर्थ नहीं होता, उसके व्यवहार से किसी का अहित नहीं होता, सच्चा भक्त वही है जो तपस्वी, धैर्यवान, निष्कामभाव, निर्भीक तथा प्रसन्न चित्त रहता है, पहले तो उस भग्त पर संकट नहीं आता अगर कभी संकट आ भी जाए तो माँ बँग्लामखी उस संकट को नष्ट कर देती है, उन्होंने इस कोरोना महामारी के दौरान लड़ने वाले योद्धाओं के लिए एवं उनके परिवारों के लिए विशेष प्रार्थना की, और मंदिर के अंदर श्रद्धालुओं के बीच हवन यज्ञ के दौरान सोशल डिस्टेंस का खा़स ध्यान रखा गया, तदुपरांत भव्य आरती कर माँ के भगतों के लिए भंडारा भी लगाया गया,

इस मौके पर मुनीश शर्मा, करण भारद्वाज, अभिलक्षय चुघ, गौरव कोहली, वरूण बाली, सुरेंद्र सिंह बाबा, बलजिंदर सिंह, एडवोकेट राजकुमार, मुकेश चौधरी, संजीव शर्मा, गौरव, गुलशन शर्मा, अमित कुमार, पवन, डां जसबीर अरोड़ा, मोटीं, रोहित मल्होत्रा, बावा खन्ना, मनप्रीत, सोनू छाबड़ा, विनोद खन्ना, ठाकुर बलदेव सिंह, गुरबाज सिंह, सुनील जग्गी, जसविंदर सिंह, यज्ञ दत्त, बहादुर सिंह, प्रवीण आदि माँ के भक्त जन मौजूद थे..

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.