मुख्य मंत्री पंजाब के प्रयासों से लाकडाऊन /कर्फ़्यू के कारण जैसलमेर में फंसे सात मजदूर घर वापिस

जालंधर(योगेश कत्याल)
कैप्टन अमरिन्दर सिंह मुख्य मंत्री पंजाब के नेतृत्व वाली राज्य सरकार द्वारा किये गए अंथक प्रयासों के फलस्वरूप जालंधर से सबंधित सात मजदूर जोकि लाकडाऊन /कर्फ़्यू के कारण जैसलमेर में फंसे हुए थे घर वापिस लौट सके।
मजदूर जिन में नानकी, जीत रानी, जसविन्दर कौर, हरनाम सिंह, परविन्दर सिंह आयु 16 वर्ष और फिरोज कौर जैसलमेर में फंसे हुए थे और वहाँ की सरकार द्वारा बनाऐ गए राहत कैंप में रह रहे थे। इन मजदूरों को पंजाब सरकार द्वारा मुहैया करवाई गई विशेष बसों के द्वारा जैसलमेर से वापिस लाया गया। पंजाब के मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने स्वयं निजी तौर पर राजस्थान और हरियाणा के सरकारों से फंसे हुए मजदूरों को वापिस लाने के लिए संपर्क किया गया।
इन मजदूरों को सीनियर मैडीकल अधिकारी पी.ए.पी. डा.रमन शर्मा के नेतृत्व में जालंधर प्रशासन के आधिकारियों द्वारा प्राप्त किया गया। स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों अनुसार इन मजदूरों की पूरी डा1टरी जांच और स्क्रीनिंग को जिला प्रशासन द्वारा विश्वसनीय बनाया जा रहा है। इस अवसर पर मजदूरों की तरफ से कैप्टन अमरिन्दर सिंह मुख्य मंत्री पंजाब के नेतृत्व वाली राज्य सरकार की तरफ से उनको घर वापिस लाने के लिए किये गए प्रयासों की प्रशंसा करते हुए धन्यवाद किया गया। उन्होने कहा कि वह मुख्य मंत्री पंजाब के इस नेक काम के लिए हमेशा ऋणी रहेंगे।कमिश्नरेट पुलिस की तरफ से किये गए इस प्रशंसायोग प्रयास को याद रखेंगे ।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.