मोदी सरकार ने 100 की बजाय 50 दिनों में ही पेश किया अपना रिपोर्ट कार्ड

नई दिल्ली(हलचल नेटवर्क)
मोदी सरकार-2 का पहला रिपोर्ट कार्ड बीजेपी ने 100 दिन की बजाय 50 दिन में ही पेश कर दिया। बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने शुक्रवार को अपनी रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए कहा कि मोदी सरकार ने जल से लेकर चंद्र तक के फैसले लिए। सरकार के तमाम फैसले गांव, गरीब, किसान, मजदूर, व्यवसायी, छोटे दुकानदारों को मुख्यधारा में शामिल करने वाले रहे।
नड्डा ने कहा कि अब तक परंपरा रही है कि सरकार 100 दिन में रिपोर्ट कार्ड देती है लेकिन पहली बार मोदी सरकार ने 50 दिन में अपना रिपोर्ट कार्ड देश के सामने रखने का फैसला लिया। बीजेपी नेता ने कहा कि सबसे अहम फैसला 2022 तक 1 करोड़ 95 लाख घर बनाने का है और हर घर में पीने का पानी, गैस कनेक्शन, शौचालय की सुविधा होगी।

यह आम लोगों के जीवन को आसान बनाएगा। 2024 तक हर ग्रामीण घर में पीने का पानी पाइपलाइन के जरिए पहुंचेगा। यह एक क्रांतिकारी कदम है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में यूपीए सरकार के वक्त ध्यान हट गया लेकिन फिर जब मोदी सरकार बनी तो इस पर फिर फोकस किया गया। लेबर रिफॉर्म्स के साथ ही फाइनेंशियल फ्रॉड रोकने की दिशा में भी मोदी सरकार ने काम किया है। नड्डा ने कहा कि 10 हजार फार्मर प्रड्यूसर ऑर्गनाइजेशन बनी हैं जो उत्पादन की इनपुट कॉस्ट कम करने की दिशा में काम करेंगे। छोटे दुकानदारों को पेंशन की योजना एक बहुत बड़ा फैसला है जिसमें करीब 3 करोड़ छोटे व्यसायियों को लाभ मिलेगा। उन्होंने ‘नारी तू नारायणी’ योजना का जिक्र किया साथ ही कहा कि फौजियों के बच्चों को मिलने वाली स्कॉलरशिप को पैरामिलिट्री और पुलिस फोर्स में भी लागू करने का फैसला भी एक बड़ा कदम है।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.