यज्ञ विश्व की प्राचीनतम सैनिटाइजेशन प्रक्रिया: श्री – श्री 108 स्वामी सिकंदर महाराज

जालंधर (योगेश कत्याल)
प्राचीन शिव मंदिर नजदीक दोमोरिया पुल में आज कोरोना वायरस के शमन के लिए मां बगलामुखी साप्ताहिक हवन यज्ञ का आयोजन किया गया। अखिल भारतीय दुर्गा सेना संगठन के तत्वाधान व संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री – श्री 108 स्वामी सिकंदर महाराज जी की अध्यक्षता में हुए इस हवन यज्ञ में कोरोना को इसमें जलाकर राख करने के लिए मंत्र उच्चारण किया गया।


इस मोके श्री – श्री 108 स्वामी सिकंदर महाराज जी ने कहा कि ऐसे यज्ञ से कोरोना का समूल नाश हो जाएगा और जिस इलाके में ऐसे हवन यज्ञ होगा, वहां दूर दूर तक कोरोना का प्रकोप नही मिलेगा। उन्होंने कहा कि ने कहा कि जल्द ही भारत की धरती पर कोरोना वायरस के संक्रमण का समूल नाश हो जाएगा। श्री स्वामी जी ने कहा कि यज्ञ विश्व की प्राचीनतम सैनिटाइजेशन की प्रक्रिया है। श्री स्वामी जी के अनुसार कोरोना महामारी से मुक्ति देवी देवताओं के समक्ष हवन अनुष्ठान के बिना संभव नहीं है क्योंकि पूजा पाठ से ही आबो हवा बदलती है। उन्होंने कहा कि सभी को समय-समय पर अपने घर व प्रतिष्ठान पर हवन अवश्य करवाना चाहिए।
इस अवसर पर अखिल भारतीय दुर्गा सेना के पंजाब अध्यक्ष विशाल शर्मा, जालंधर अध्यक्ष वैभव शर्मा, मीडिया प्रभारी राकेश महाजन, अमिता बाहरी, आशीष जौली, रंजना जौली, हरजीत सिंह, पूनम देवी, नीलम, हर्ष, इशांत कुमार, पायल, कुमार बांसल, राजीव, रूबी, दर्शना आदि उपस्थित रहे।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.