राजनीति में जिम्मेदार पहचान बनाने में सफल रहे स.भाटिया, शिअद ने बनाया उपाध्यक्ष

जालंधर(विनोद मरवाहा)
छात्र राजनीति से बिना विरासत के शिरोमणि अकाली दल की राजनीति करने वाले दिग्गज नेता स.कमलजीत सिंह भाटिया को पार्टी में एक बहुत बड़ा सम्मान मिला है। स.भाटिया पार्टी के उपाध्यक्ष बनाए गए हैं। प्रदेश शिअद की राजनीति में उनकी की एक अलग और विशेष पहचान है। शिअद में उनकी गिनती जमीन से जुड़े नेताओं में होती है। उनका राजनैतिक सफर बहुत लंबा है। वे पिछले 24 सालों से लगातार राजनीति में सक्रिय हैं। स.भाटिया अब तक लगातार पांच बार पार्षद के चुनाव जीत चुकें हैं तथा दो बार सीनियर डिप्टी मेयर के पद पर भी आसीन रह चुके हैं। यही कारण है कि स.भाटिया से शिअद प्रधान सुखबीर सिंह बादल को काफी उम्मीदें हैं।
स.भाटिया एक सभ्य, सुशिक्षित और प्रगतिशील विचारधारा वाले राजनेता माने जाते हैं जिन्हें जनता ने हर निगम चुनाव में हमेशा दलगत राजनीति से उपर उठ कर समर्थन दिया है। वे करीब 25 साल से राजनीति में हैं और लगातार अपने क्षेत्र व प्रदेश की जनता के करीब होते गये हैं। नगर निगम पार्षद से सीनियर डिप्टी मेयर और अब पार्टी के उपाध्यक्ष तक का सफर तय करने वाले स.भाटिया को नयी सोच व नये जोश के लिये जाना जाता है। वे एक प्रदेश स्तर के राजनेता हैं और न सिर्फ बतौर सीनियर डिप्टी मेयर उन्होंने अपने क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास कार्य करवाये हैं बल्कि क्षेत्र की जनता से उनका जुड़ाव भी सराहनीय है।
स. भाटिया ने अपनी इस नई नियुक्ति के लिए स. प्रकाश सिंह बादल, स.सुखबीर सिंह बादल, स.बिक्रमजीत सिंह मजीठिया, बीबी जागीर कौर तथा स. दलजीत सिंह चीमा का धन्यवाद करते हुए कहा कि पार्टी हाईकमान ने मुझ पर भरोसा जताकर जो जिम्मेदारी मुझे सौंपी है मैं उस जिम्मेदारी को पूरी ईमानदारी से निभाऊंगा और मेरा प्रयास रहेगा कि पार्टी को मजबूती प्रदान करुं व आगामी लोकसभा चुनाव में लोकसभा की सभी सीटों पर पार्टी के प्रत्याशियों को जीत हासिल करवा सकूं। स.भाटिया की इस नियुक्ति से उनके समर्थक गदगद हैं।