राज्यपाल को लिखी चिट्ठी, कहा- बिना काम किये ही सैलरी ले रहे हैं नवजोत सिद्धू सैलरी ले रहे, एक्शन लिया जाए

चंडीगढ़(हलचल नेटवर्क)
पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर सियासी तकरार लगातार बढ़ता जा रहा है. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और सिद्धू के बीच की अनबन अब खुलकर सामने आने लगी है. सिद्धू का मंत्रालय बदल दिया गया, लेकिन उन्होंने अपनी जिम्मेदारी नहीं संभाली है. इस बीच भारतीय जनता पार्टी ने मांग की है कि ये जनता का अपमान है। अगर मंत्री काम नहीं करना चाह रहा है तो किसी और को ज़िम्मेदारी लेनी चाहिए।
पंजाब बीजेपी के नेता तरुण चुग ने बताया कि उन्होंने राज्य सरकार में चल रहे इस विवाद को लेकर राज्यपाल को चिट्ठी लिखी है। उनका कहना है कि पंजाब में संवैधानिक संकट है, एक महीने से अधिक हो गया है मंत्री ने शपथ तो ले ली लेकिन काम नहीं कर रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि मंत्री अपनी सैलरी ले रहे हैं, लेकिन काम नहीं कर रहे हैं।
तरुण चुघ ने लिखा कि मैं राज्यपाल महोदय से निवेदन करता हूं कि वे पंजाब के हित में फैसला लें। अगर मंत्री सिद्धू काम नहीं करना चाहते तो किसी अन्य को उस विभाग की जिम्मेदारी दे देनी चाहिए। वे वेतन तो ले रहे हैं, लेकिन काम नहीं कर रहे। उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।