रात में गाड़ी चलाते समय अगर इन बातों का रखेंगे ध्यान तो नहीं होगी कोई दुर्घटना

जालंधर(मनु त्रेहन)
ज्यादातर लोगों को रात में ड्राइव करना पसंद आता है। छोटी ड्राइव तक तो यह बात ठीक है लेकिन जब बात लम्बी यात्रा की हो तो सोचना पड़ता है। वो बात अलग है जब कोई इमरजेंसी हो, लेकिन अगर आप शौक का लिए रात के समय गाड़ी चलाते हैं तो फिर कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है।
पूरी नींद लें
अगर आपका रात में निकलना बेहद जरूरी है और आपके समय है, तो कुछ देर अच्छी नींद लें। क्योंकि रात में 3से 5 बजे का समय सबसे ज्यादा खतरनाक इसलिए होता है। यह वह समय होता है जब व्यक्ति पर नींद सबसे ज्यादा हावी होती है। यदि ड्राइविंग करते समय आंख लग गई या छोटी सी झपकी भी आ गई तो आप किसी से टकरा सकते हैं और गंभीर दुर्घटना हो सकती है।
शराब पीकर कभी ड्राइविंग ना करें
शराब पीकर बिलकुल भी ड्राइव न करें और रात के समय तो यह सबसे ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता है।
गति पर नियंत्रण
रात में कार चलाते समय रफ्तार कम रखें। कई बार रात में गड्ढे या रोड ब्रेकर दिखाई नहीं देते। ऐसे में यदि कार को नियंत्रित रफ्तार पर चलाएंगे तो सही समय पर ब्रेक लगा पाएंगे।
शॉर्ट कट न लें
रात में ड्राइव करते समय कभी भी शॉर्टकट का इस्तेमाल न करें। यह बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। हमेशा बिजी रुट से ही जाएं और कोशिश करें कि सिंगल लेन की सड़क का इस्तेमाल ना करें।
खिड़की थोड़ी खुली रखें
विंडो थोड़ी खुली रखें इससे आपको बाहर की आवाज सुनाई देगी जिससे आप ड्राइव करते समय अलर्ट रहेंगे।
यात्रा के बीच में ब्रेक लें
रात को यदि किसी लंबी दूरी की यात्रा पर निकल रहें हैं तो थोड़े-थोड़े समय पर कहीं गाड़ी खड़ी करके कुछ खा लें या कम-से-कम पानी पी लें। इससे आपके शरीर और कार को थोड़ा आराम मिल जाएगा ।
अकेले यात्रा पर जाने से बचें
रात को कभी भी अकेले लम्बी यात्रा पर न निकलें। क्योंकि यदि एमरजेंसी पड़ी तो आपके लिए दिक्कत हो जाएगी। इसलिए अपने साथ एक साथी जरूर लेकर जाएं।

 

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.