राष्ट्रीय सिख संगत ज़िला जालंधर देहाती के गुरप्रीत सिंह रिंकू संयोजक व देवकीनंदन ठुकराल बने सहसंयोजक

जालंधर(विनोद मरवाहा)
राष्ट्रीय सिख संगत पंजाब के अध्यक्ष स. हरमिन्दर सिंह मलिक की अध्यक्षता में आज जिला जालंधर की एक विशेष बैठक संरक्षक अमरजीत सिंह अमरी के सेंट्रल टाऊन स्थित कार्यालय में जालंधर में हुई।इस अवसर पर सर्वसमिति से राष्ट्रीय सिख संगत ज़िला जालंधर देहाती की नईं टीम की घोषणा की गई। घोषित टीम में गुरप्रीत सिंह रिंकू को ज़िला जालंधर देहाती का संयोजक व देवकीनन्दन ठुकराल को सह संजोयक नियुक्त किया गया।
इस मोके नवनियुक्त संयोजक गुरप्रीत सिंह रिंकू ने सभी का आभार जताते हुए कहा कि राष्ट्रीय सिख संगत एक सामाजिक-सांस्कृतिक संस्था है जो श्री गुरू ग्रन्थ साहब के सन्देशों को पूरे भारतीय उपमहाद्वीप में प्रसारित करने के लक्ष्य के साथ पूरी निष्ठा से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि संगत का मानना है कि गुरू ग्रन्थ साहब केवल सिखों का ही नहीं वरन सम्पूर्ण भारतीय उपमहाद्वीप का पवित्र धर्मग्रन्थ है।
इस अवसर नवनियुक्त सहसंयोजक देवकीनंदन ठुकराल ने कहा कि राष्ट्रीय सिख संगत का मुख्य उद्देश्य समाज के सभी वर्गों में सामाजिक बराबरी पैदा करना और सिख परम्परा, सिख इतिहास को जन-जन तक पहुंचाना है। उन्होंने कहा कि श्रीगुरुग्रंथ साहिब के सन्देशों को सर-माथे पर लेकर संगत के सभी कार्यकर्ता पूरे देश में सामाजिक बराबरी का वातावरण तैयार कर रहे हैं और देश की एकता को मजबूती दे रहे हैं। इस अवसर पर घोषित टीम को समर्थ देने वालों में हरभजन सिंह, इंद्रजीत सिंह, राजिंदर सिंह पप्पी, सुखजिंदर सिंह हीरा, परमजीत सिंह अरोड़ा, सुखविंदर सिंह, हरप्रीत सिंह बेदी,जसवंत सिंह अरोड़ा, बलवीर सिंह, राम पाल वर्मा, जोगिंदर सिंह खालसा, अमरजीत सिंह गोल्डी सहित सभी सदस्यों विशेष रूप से हाजिर थे। इन सभी महानुभावों ने नवनियुक्त संयोजक व सहसंयोजक को सिरोपा भेंट कर सम्मानित किया।