राष्ट्र निर्माण के प्रति समर्पण का भाव रखना ही सच्ची राष्ट्र सेवा :श्री श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज

जालंधर(विनोद मरवाहा)
देश में जन्मे प्रत्येक व्यक्ति को राष्ट्र निर्माण के प्रति समर्पण का भाव रखना ही सच्ची राष्ट्र सेवा है। हम सभी की प्रत्येक सुबह राष्ट्र निर्माण की सोच के साथ होनी चाहिए।
यह बात अखिल भारतीय दुर्गा सेना संगठन(रजि.) के संचालक व राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज ने प्राचीन शिव मंदिर, दामोरिया पुल, रेलवे रोड में आयोजित साप्ताहिक मां बगलामुखी हवन यज्ञ को अलप विश्राम देने के बाद कही। श्री स्वामी जी ने कहा कि हमारे द्वारा धर्म व समाज हित में किए गए कार्यों से ही राष्ट्र निर्माण में सहयोग होगा। इसके अतिरिक्त हमारे सामने यदि कोई भी हमारे राष्ट्र को अपमानित करने की चेष्टा करता है, राष्ट्र की नैतिकता पर प्रश्न उठाता है, धर्म, भाषा और मान्यताओं के आधार पर हमें बांटने की घिनौनी कोशिश करता है तो हमारा कर्तव्य हो जाता है कि हम उसे मुंहतोड़ जबाब दें। श्री स्वामी जी ने कहा कि हम सभी को मिलकर एक ऐसी पीढ़ी का निर्माण करना होगा जिसमें देशभक्ति कूट-कूट कर भरी गई हो। साथ ही नई पीढ़ी को अपने राष्ट्र भक्तों की जीवन शैली और उनके योगदान की जानकारी गंभीरता से देनी होगी।


इस मोके विशेष रूप से उपस्थित गुरु मां नीरज रत्न सिकंदर केअनुसार यह हमारा कर्तव्य है कि हम आज की युवा पीढ़ी को राष्ट्र निर्माण की दिशा में ले जाएं। उन्होंने कहा कि जैसा हम आज अपने बालक बालिकाओं को बनाएंगे भविष्य में वैसा ही उनका राष्ट्र निर्माण में योगदान होगा।
इस अवसर पर अखिल भारतीय दुर्गा सेना संगठन (रजि.) के पंजाब प्रधान विशाल शर्मा, पोली बाबा जी,अमरजीत मेहरुक, मनजोत मेहरुक, प्रमोद मरवाहा, बलिंद्र यादव, ऋतु शर्मा, पूजा शर्मा वैभव शर्मा, राकेश महाजन, नन्द लाल नंदू, अशोक कुमार, राजिंदर कौर, राज रानी, सुरजीत कौर, सतनाम सिंह, गौरव मसंद, अशोक कत्याल, रिशु मदान, संजू अरोड़ा, अर्जुन मल्होत्रा, देवेंद्र कुमार, पुरुषोत्तम दुबे, विमल यादव, कुलदीप यादव, प्रतीम दास, मनोहर लाल, मगनलाल, सुनील शर्मा, ओम प्रकाश यादव, राहुल शर्मा, राधा अरोडा, कमल मल्होत्रा, बिन्नी वोहरा, अनुज जोशी, शुभम, नीरज, मनोज जैन, स्वप्निल शर्मा, राहुल वर्मा, सोनू राय, रवि नागर, कमलेश व्यास, सहित माँ भक्त काफी संख्या में उपस्थित थे।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.