श्रीमद् भागवत कथा रसवर्षा के उपलक्ष्य में निकाली भव्य कलश यात्रा

जालंधर(योगेश कत्याल)
श्री बांके बिहारी भागवत प्रचार समिति की ओर से 21 नवंबर से श्रीमद् भागवत कथा रसवर्षा का आयोजन साईं दास स्कूल ग्राउंड में किया जा रहा है। जिसके उपलक्ष में भक्तों की तरफ से महालक्ष्मी मंदिर जेल रोड से भव्य कलश यात्रा का आयोजन किया गया। सबसे पहले कलश पूजन किया गया जिसके बाद 101 सुहागिनो की तरफ से मंगल कलश सिर पर धारण किए गए। भक्त श्री बांके बिहारी की लगन में मधुर भजनों की धुन पर नाचते गाते हुए आगे बढ़ते जा रहे थे। मार्ग में भक्तों की तरफ से पुष्पवर्षा करके स्वागत किया गया। कलश यात्रा में शामिल भक्त ने भागवत जी को सिर पर रखकर कलश यात्रा के साथ साथ नंगे पांव पैदल चले । हरे कृष्णा महामंत्र अथवा गोविंद जय जय गोपाल जय जय के साथ पूर्ण वातावरण भक्ति में हो गया।
श्री बांके बिहारी भागवत प्रचार समिति जालंधर द्वारा सबसे युवा आध्यात्मिक गुरु पुरस्कार से सम्मानित स्वामी श्री हरिदास जी की सातवीं पीढ़ी से विश्व विख्यात कथा वाचक स्वामी मृदुल कृष्ण शास्त्री जी के सुपुत्र आचार्य श्री गौरव कृष्ण महाराज जी अपनी मधुर वाणी से 21 नवंबर से 27 नवंबर तक सांय 4:00 बजे से रात्रि 9:00 बजे श्रद्धालुओं को निहाल करेंगे। वृंदावन से आए चित्रकार स्टेज को भव्य रुप से सुशोभित करेंगे अथवा कथा स्थल का मुख्य द्वार देखने योग्य होगा।

आप सभी धर्म प्रेमियों से विनम्र निवेदन है कि सपरिवार इष्टमित्रों सहित पधार कर भागवत कथा का श्रवण करें अथवा बांके बिहारी जी का आशीर्वाद प्राप्त करें। आए हुए सभी भक्तों का सुख- सुविधाओं का कमेटी की तरफ से विशेष ध्यान रखा जाएगा पार्किंग और जोड़ों के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। किसी भी प्रकार की भागवत कथा से संबंधित जानकारी अथवा सेवाओं के लिए संस्था के प्रधान सुनील नैयर और समिति के किसी भी सदस्य से संपर्क किया जा सकता है।


इस मोके सुनील नैयर, बृजेश कुमार जुनेजा, उमेश ओरी, संजय सहगल, महेश मखीजा, संदीप मलिक, बृजमोहन चड्ढा, चंदन वडेरा, रिंकू मल्होत्रा, भूपेंद्र बिल्ला, राहुल बारी, नरेंद्र वर्मा , सुमित गोयल, बलविंदर शर्मा, अश्विनी कुमार आशू, विकास ग्रोवर, हेमंत थापर, हतिंदर तलवार, दविंदर अरोड़ा. राजकुमार शर्मा, मनीष गुप्ता, गोपी वर्मा, राजवंश मल्होत्रा, अरुण मल्होत्रा, तरुण सॉरीन, दविंदर वर्मा, विनोद खेरा, गौरव भल्ला, बिल्ला प्रधान आदि भक्तजन विशेष तौर पर उपस्थित रहे।