श्री गुरुनानक देव जी के प्रकाशोत्सव पर बस्ती मिट्ठू से निकला विशाल नगर कीर्तन

जालंधर(विनोद मरवाहा)
श्री गुरुनानक देव जी की 550 वीं जयंती प्रकाश पर्व को लेकर पूरे देश व विदेशों में भी श्री गुरुपूरब पूरे भक्ति एवं श्रद्धा पूर्ण तरीके से कराया जा रहा है। इसी तहत श्री गुरु नानक देव जी के पास 550 में प्रकाश दिवस को समर्पित गुरुद्वारा बाबा बचित्तर सिंह जी बस्ती मिट्ठू एक विशाल नगर कीर्तन श्री गुरु ग्रंथ साहब जी की छत्रछाया में पांच प्यारों की अध्यक्षता में निकाला गया।

इस नगर कीर्तन का शुभारंभ पांच प्यारों ने किया। नगर कीर्तन बस्ती मिट्ठू, गुरु अर्जन नगर, 120 फुटी रोड, आदर्श नगर, हरबंस नगर, न्यू शास्त्री नगर, शास्त्री नगर, कपूरथला चौक के अलावा कई इलाकों से घूमता हुआ वापिस गुरुद्वारा बाबा बचित्तर सिंह में समाप्त हुआ। नगर कीर्तन में युवा भाजपा नेता एवं एक नूर वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष प्रदीप खुल्लर विशेष रूप से शामिल हुए।

प्रदीप खुल्लर को संस्था की ओर से गुरु घर का स्वरूप देकर सम्मानित किया गया। प्रदीप खुल्लर ने नगर कीर्तन मे लगाए मंच में बोलते कहा कि श्री गुरु नानक देव जी मुसलमानों के पीर हैं, हिंदुओं के प्रभु और सिक्खों के गुरु हैं। श्री गुरु नानक देव जी ने पूरे विश्व भर को किरत करो, वंड छको और नाम जपो का उपदेश दिया। खुल्लर ने कहा कि हम लोग भाग्यशाली हैं कि हम जगत पिता श्री गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाश उत्सव मना रहे हैं। गुरु साहब की कृपा हम सब पर बनी रहे, ऐसी मेरी कम्मना है।


इस नगर कीर्तन में विशेष रूप से दीपक सिंह राठौर, मुख्य सेवादार परमजीत सिंह, सुच्चा सिंह, हरजीत सिंह, गुरविंदर सिंह शैंपू, धर्मेंद्र सिंह, हरप्रीत सिंह हैप्पी, मिट्ठू परमार, परमजीत सिंह राठौर, हरजीत सिंह राठौर, गुरविंदर सिंह परमार, गुरप्रीत सिंह परमार, मनीष सिंह राठौर, सुच्चा सिंह, सुखदेव सिंह राठौर, हरप्रीत सिंह राठौर, गुरप्रीत सिंह, गुरदेव सिंह राठौर, सुखदेव सिंह काला, ग्रंथी गुरुदेव सिंह लवली, गुरमीत सिंह परमार, कृपाल सिंह परमार, जरनैल सिंह परमार, गुरुदेव सिंह परमार के इलावा संगत काफी संख्या में मौजूद थी।