सत्संग रूपी गंगा में सभी पाप धुल जाते हैं : श्री श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज

जालंधर(विशाल कोहली)
सत्संग वो गंगा है जिसमें बुरे पाप भी धुल जाते हैं। नियमित रूप से मन लगाकर प्रेम पूर्वक सत्संग करने से पापी भी पवन हो जाता है। सत्संग में आकर ही ईश्वर तक पहुंचने का दिव्य मार्ग जीवन को मिलता है।
यह आशीर्वचन अखिल भारतीय दुर्गा सेना संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज ने संगठन की तरफ से प्राचीन शिव मंदिर, दोमोरिया पुल में आयोजित साप्ताहिक मां बगलामुखी हवन यज्ञ के दौरान उपस्थित मां भक्तों को संबोधित करते हुए कहे। उन्होंने सत्संग का महत्व समझाते हुए कहा कि प्रभु सत्संग ज्ञान सरोवर है जिसमें डुबकी लगाते रहने से जीवन में पवित्रता आती है। उन्होंने बताया कि सत्संग जीवन में सरलता व पवित्रता लाता है और सरल व्यक्ति सदैव विनम्र रहता है जिससे उसका जीवन आनंदमय हो जाता है। उन्होंने कहा कि सत्संग में आकर उसमें कही गई बातों का श्रवण, मनन व चिंतन मनुष्य के उत्थान और मुक्ति का सशक्त माध्यम बन जाता है।
इस अवसर पर विशेष रूप से उपस्थित गुरु माँ नीरजा रतन सिकंदर जी ने भी साधको को आशीर्वाद दिया। पंडित चक्कर प्रशाद जोशी ने गौरी गणेश पूजन कर हवन यज्ञ मेआहुतिया डाली।
इस अवसर पर संगठन के पंजाब प्रधान विशाल शर्मा, जिला प्रधान वैभव शर्मा, राजिंदर तनेजा, रोहित जैन, मोहित जैन, राकेश, सोनिया, राकेश महाजन, लीना महाजन, तान्या महाजन, चंद्रशेखर, रिपन शर्मा, कुमुद शर्मा, पवन बाहरी, तेजिंदर भाटिया, रूप लाल, शाम शर्मा, गोवेर्धन शर्मा, राजेश भारद्वाज, राजू भाटिया, अशोक चड्डा, अनुराग चोपड़ा, सुमन अग्निहोत्री, लता खुल्लर, मीनाक्षी अरोड़ा, तजिंदर कौर, अमरजीत कौर, शुकन्तला भसीन, सतपाल सेतिया, तरविंदर सिंह, उत्तम शर्मा, रघु महाजन, बलविंदर सिंह, आशु शर्मा, गगन अरोड़ा, सुरिंदर मेहता, राम शर्मा, संजीव मिंटू, सन्नी ग्रेवाल, सतीश कुमार, शिव भारद्वाज, संजीव शर्मा, रिंकू मल्होत्रा, अश्वनी भारद्वाज, पूर्ण चाँद, सुभाष कोहली, संदीप नारंग, बब्बू शर्मा, वीणा नागपाल, सुनीता शर्मा आदि मौजूद थे।