साधु की पहचान गुणों से होती है, उसके वस्त्रों से नहीं :स्वामी देवकीनंदन दास

जालंधर(योगेश कत्याल)
साधु की पहचान गुणों से होती है, उसके वस्त्रों से नहीं। देखने में तो रावण साधु वेश में आया और दूसरी ओर शुकदेव जी दिगंबर वेशधारी हैं,परंतु दोनों में कितना अंतर है, रावण ने साधु वेश में सीता जी का हरण किया और शुकदेव जी ने परीक्षित महाराज जी को श्रीमद् भागवत कथा का रसपान करवा कर उनका सात दिनों में ही उद्धार कर दिया।

उक्त विचार बस्ती पीर दाद ग्रीन एवेन्यू कॉलोनी के श्री गौरी शंकर मंदिर में हुई श्रीमद भागवत कथा के अंतिम दिवस में स्वामी देवकीनंदन दास जी महाराज ने व्यक्त किए। महाराजश्री ने सब को समझाया कि जैसे हम अपने बच्चे की पढ़ाई के लिए सही स्कूल का चयन करते हैं दूसरों से पूछते हैं, तब जाकर के कहीं स्कूल में एडमिशन करवाते हैं। ऐसे ही पूरी तरह से जांच पड़ताल करके ही हमें अपने परमार्थ राज्य के लिए गुरु का चयन करना चाहिए। महाराज श्री ने इस बात पर जोर देते हुए कहा कि आजकल हम अपनी सनातन संस्कृति को भूलते चले जा रहे हैं, हमारे मस्तक पर तिलक होना चाहिए, गले में तुलसी माला होनी चाहिए और हमें शिखा भी रखनी चाहिए, हम हिंदू या सनातनी हो करके इन सब चीजों से शर्माते हैं जबकि पाश्चात्य देशों के लोगों को देखिए जब से उन्होंने हमारी संस्कृति के बारे में सुना है तब से कैसे तिलक धारण कर रहे हैं, कैसे धोती पहन रहे हैं। सुंदर भक्तों जैसा जीवन धारण करके भजन कर रहे हैं।

इस अवसर पर पंडित राजकुमार तिवारी, पंडित मनोज़ कुमार (शास्त्री), पंडित ध्रूव नारायण, आचार्य राजू, पंडित शयाम, विधायक सुशील रिंकू, भाजपा नेता मोहिंदर भग्त, अमित संधा, रमेश शर्मा, प्रदीप खुल्लर, मुनीश जुगल, विजय शर्मा, केवल शर्मा, मुकेश सहदेव, संजीव ठाकुर, नीना ठाकुर, राजेश अगिहिहोत्री, डॉ दविंदर शर्मा, शशि शर्मा, रवि शर्मा, चंद्र गुप्ता, मोनिका गुप्ता, सुषमा शर्मा, केवल शर्मा, चेतन भल्ला, ममता गुजराल, पूजा भल्ला, सुषमा शर्मा, विपन कुंद्रा, तेज प्रकाश, राजेश कुमार, प्रॉमिला, मुनीश ठाकुर, वीरकांता गुप्ता, सौरव सेठ, मुनीश अरोड़ा, पूर्व पार्षद किरपाल सिंह बूटी, तेज कुमार दुबे, सतपाल, कुलविंदर, रमेश शर्मा, ललित शर्मा, अञ्जलि धीर, शीनू, दीपक, प्रीतपाल सिंह, मिंटू, हरि ओम, कुंदन पूरी, शिव कुमार, रवि कांत शर्मा, चन्दर मोहन चोपड़ा, नीलू ठाकुर, डॉ जतिंदर शर्मा, कनिका शर्मा, शक्ति शर्मा, अनिल नागपाल, राहुल कुमार, ओम प्रकाश दुबे, राकेश दुबे, पवन, सागर सुनीता, सतपाल, विवेक बब्बी, विनय शर्मा, सागर, आदि मौजूद थे।