सेंट जोसफ स्कूल ने नासा भेजने के नाम पर ऐंठे 1.28 करोड़ रुपये

(हलचल नेटवर्क)
सेंट जोसफ कॉन्वेंट स्कूल बठिंडा द्वारा विद्यार्थियों को नासा लेकर जाने के बहाने पैरेंट्स से लिए पैसे वापस न करने के विरोध में अभिभावकों द्वारा डीसी बी श्रीनिवासन को मांगपत्र दिया गया। इस दौरान स्कूल प्रबंधन पर बहुत ज्यादा समय बीत जाने के बावजूद पैसे न वापस करने का आरोप लगाया गया।
सेंट जोसफ स्कूल द्वारा बच्चों को नासा टूर पर ले जाने के नाम पर अभिभावकों से करीब एक करोड़ 28 लाख रुपये लिए थे। हर बच्चे से दो लाख 50 हजार रुपये की रकम निर्धारित की थी। जबकिअभिभावकों ने एक लाख 50 हजार रुपये के नकद या चेक लिए थे। इसमें 85 बच्चों को जून 2019 के पहले हफ्ते में नासा के टूर लेकर जाने का भरोसा दिया गया था। इसके बाद टूर सितंबर महीने में लेकर जाने को कहा। इसके लिए बच्चों को इंटरव्यू पर ले जाया गया। लेकिन इसके बाद सटैरीको प्राइवेट लिमिटिड नई दिल्ली के नाम पर डील किया गया था। यह एक फ्राड कंपनी है। इस कंपनी ने उनके साथ ठगी मारी है। इसके बाद सभी का वीजा खारिज कर दिया गया। लेकिन उनके पैसे वापस नहीं दिए गए। अभिभावकों ने बताया कि जब पैसे वापस करने के लिए लोगों ने स्कूल प्रिंसिपल से बात की तो उन्होंने कहा कि कंपनी के पास जमा की राशि में एक लाख 50 हजार रुपये प्रति बच्चा रकम वापस हुई है।
स्कूल प्रिंसिपल ने सभी अभिभावकों को प्रति बच्चा एक लाख 50 हजार रुपये की ज्यादा से ज्यादा राशि वापस करवाने का भरोसा दिया। उन्होंने कहा कि कंपनी के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कर उसके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। लेकिन इसके बाद कोई भी कार्रवाई नहीं की गई। जब दोबारा प्रिंसिपल से बात की गई तो उन्होंने अभिभावकों के साथ बुरा व्यवहार किया।
अभिभावकों के अनुसार जमा करवाई राशि को करीब आठ से 9 महीने हो गए हैं। लेकिन प्रबंधको द्वारा उनकी राशि वापस नहीं की जा रही। उन्होंने कहा कि उनकी राशि उन्हें ब्यास समेत वापस की जाए। नहीं तो उनकी ओर से संघर्ष किया जाएगा।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.