मात्र प्रभु का नाम ही है जो मनुष्य के साथ जाता है बाकी सब धरती पर रह जाता है :- नवजीत भारद्वाज

जालंधर (योगेश कत्याल) आवागमन के चक्कर से प्रभु नाम का संकीर्तन ही छुटकारा दिलाता है, हमें काम करते हुए भी

Read more