62वें राष्ट्रीय ज्योतिष महा सम्मेलन व स्टार लाइट ज्योतिष प्रदर्शनी की तैयारियां संपूर्ण

जालंधर (विशाल कोहली)
अखिल भारतीय सरस्वती ज्योतिष मंच (रजि) द्वारा 62 वा ज्योतिष सम्मेलन वस्टार लाइट ज्योतिष प्रदर्शनी का आयोजन आगामी 21, 22 , 23 दिसंबर 2018 को जल विलास पैलेस वर्कशॉप चौक जालंधर में होगा। इस महासम्मेलन की सभी तैयारियां संपूर्ण कर ली गई है और हर साल की तरह इस साल भी देश के कई नामी ज्योतिषाचार्य इस सम्मेलन में भाग ले रहे हैं। तीन दिवसीय सम्मेलन में देश के विभिन्न राज्यों से राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त टैरो कार्ड रीडर, रत्न आयुर्वेद, हस्तरेखा विशेषज्ञ, ज्योतिषाचार्य वास्तु शास्त्री, ज्योतिष ज्ञान, ज्योतिष जिज्ञासु, लेखक, बुद्धिजीवी, और 500 से अधिक ज्योतिषाचार्य भाग लेंगे।
मंच के संस्थापक अध्यक्ष एवं संचालक पंडित राजीव शर्मा ने बताया कि धर्म एवं अध्यात्म से मानव जीवन का कैसे कल्याण हो इस पर भी वैज्ञानिक मंथन किया जाएगा। सम्मेलन के दौरान देश की दशा दिशा प्राचीन ज्योतिष की साथर्कता लाल किताब में राहु का प्रभाव समाधान वास्तु शास्त्र हस्तरेखा टैरो कार्ड अंक विज्ञान का तर्कसंगत विश्लेषण हस्तरेखा द्वारा संतान योग विश्लेषण लाल किताब में मुसनई ग्रहों का महत्व वैदिक ज्योतिष में ग्रहों का विश्लेषण शनि का भी राशि में प्रवेश और प्रभाव के बारे में चर्चा की जाएगी और साथ ही 2019 के चुनावों मे एन.डी.ए और यू.पी.ए की स्थिति अनुरूप तर्कसंगत विवेचना भी की जाएगी।
उन्होंने कहा इस अवसर पर एक भव्य और विशाल प्रदर्शनी का भी आयोजन किया जा रहा है। इस में लगने वाले स्टालों पर अनेक सुप्रसिद्ध ज्योतिष वास्तु सलाहकार अपनी सेवाएं देंगे। इस अवसर पर भारतीय संस्कृति की झलक को लोक नृत्य के माध्यम से दर्शाया जाएगा। इसके साथ साथ संस्था द्वारा विभिन्न प्रभावों का मनोरम चित्रण ज्योतिष उत्थान के कार्य एवं इन आयोजनों में सक्रिय योगदान व भूमिका देने वालों महानुभावों और संस्थाओं को सम्मानित भी किया जाएगा।
इस महा सम्मलेन मे अरुण बांसल, आचार्य दिलीप, आर के भारद्वाज, राकेश डागर अजय भाम्भी (दिल्ली), हस्तरेखा विशेषज्ञ पंडित लेखराज शर्मा, (जोगिंदर नगर) लोकेश धमीजा, अक्षय शर्मा,( मोगा)
धर्मकोट के प्रीतम भारद्वाज, जालंधर के पंडित भोलानाथ द्विवेदी, जालंधर के सन्नी साहनी, जालंधर के गौतम द्विवेदी आचर्य कैलाश चामोली, अमित पाठक, ब्रिज मोहन कपूर ममता गुप्ता, कुसुम लता, विपिन शर्मा (ज्वाली) आर के भारद्वाज, वीणा नारंग रशिम गुप्ता, राजेश पुरोहित, गगन पाठक, दीपक धवन, रविंद्र शर्मा सहित विभिन्न ज्योतिषाचार्य, लेखक, बुद्धिजीवी अपने शोध पत्र और विचार प्रकट करेंगे।