बगलामुखी देवी की साधना-आराधना से जीवन की सभी बाधाएं होती हैं दूर: श्री-श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज

जालंधर(विनोद मरवाहा)
अखिल भारतीय दुर्गा सेना संगठन की तरफ से साप्ताहिक मां बगलामुखी हवन यज्ञ का आयोजन श्री प्राचीन शिव मंदिर, दोमोरिया पुल में हुआ। श्री दुर्गा सेना संगठन के अध्यक्ष श्री-श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज की अध्यक्षता में आयोजित हवन यज्ञ के दौरान सैकड़ों भक्तों ने हवन में आहूतियां डाल मां बगलामुखी व गुरु मां नीरज रतन सिकंदर जी का आशीर्वाद लिया।
इस अवसर पर श्री-श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज ने कहा कि ने भगवती बगलामुखी के ध्यान से हर साधक के मार्ग में आने वाले शत्रु, कलह, तिरस्कार और भय (विष रूपी) को पूर्ण रूप से समाप्त हो जाता है जिससे शत्रु आपके प्रति षड्यंत्र नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि वाणी का कीलन एवं बुद्धि का नाश कर देने से शत्रु आपके जीवन में बाधाएं, कलह एवं समस्याएं उत्पन्न नहीं कर सकते। शत्रु पक्ष उसके भक्तों का तिरस्कार नहीं कर सकता और भय पैदा करने वाले शत्रुओं को अपने प्रहार से चूर-चूर कर समाप्त ही कर देती है अर्थात मात्र बगलामुखी देवी की साधना-आराधना द्वारा जीवन की सभी बाधाओं और समस्याओं को समाप्त कर आनन्द एवं प्रसन्नतापूर्वक जीवन व्यतीत किया जा सकता है।


श्री स्वामी जी ने कहा कि स्वर्ण आसन पर स्वर्णिम आभा के साथ आसीन, पीत वस्त्रों को धारण किए, मस्तक पर चन्द्रमा को धारण करने वाली त्रिनेत्री देवी बगलामुखी का तो सम्पूर्ण स्वरूप ही मातृमय है। साधक के लिए तो ये देवी मातृमय स्वरूप हैं।
इस अवसर पर संगठन के पंजाब प्रधान विशाल शर्मा, जालंधर प्रधान वैभव शर्मा, दमन कपूर, दीपक कुमार, जसपाल, अमन, निखिल, राकेश महाजन, लीना महाजन, रिया शर्मा, रीता शर्मा, उषा शर्मा, लक्ष्मी शर्मा, सुनील मल्होत्रा, पूजा शर्मा, परवीन हांडा, अरुण शर्मा, अश्वनी मल्होत्रा, पंकज सिक्का, राजू लूथरा, सौरभ शर्मा, राजेश भारद्वाज, विनय शर्मा, मोनिका शर्मा, राजू शर्मा, कृष्ण बब्बर, सुरजीत लूथर, संजय सेतिया, केवल कृष्ण, युग त्रेहन, धीरज मेहता, दुष्यंत वोहरा, लक्ष्मी वोहरा, वीना वोहरा, शालू छाबड़ा, मोहित सिक्का, राजेश सेठ, मोहित जैन, कुसम गुप्ता, हिना कपूर, करण गुप्ता, दविंदर अरोड़ा, बब्बू शर्मा, मुकेश सहदेव, अशोक थापर, कृष्ण कुमार, अशोक चड्डा, सुरिंदर कपूर, नवीन जिंदल आदि के नाम उल्लेखनीय हैं।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.