हाईकोर्ट ने मांगा जवाब, गोरखपुर में बच्चों की मौत की असल वजह बताए UP सरकार

इलाहाबाद। गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कालेज में बच्चों की मौत पर इलाहाबाद हाईकोर्ट बेहद सख्त है। गोरखपुर के बीआरडी मेड‍िकल कॉलेज में हुई मौतों के मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने शुक्रवार को यूपी सरकार से जवाब मांगा है। कोर्ट ने सरकार से बच्चों की हुई मौतों के पीछे की असल वजह बताने को कहा। यूपी सरकार ने इसके लिए वक्त मांगा। सरकार को 29 अगस्त को जवाब देना होगा। HC ने कहा, ”ये घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। इसमें सही तथ्य सामने आने चाहिए, जिससे इस तरह की घटनाएं दोबारा न हों।”
लोकेश खुराना व कई अन्य की जनहित याचिका पर आज इलाहाबाद हाईकोर्ट में गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कालेज में बच्चों की मौत के मामले में जनहित याचिका पर मुख्य न्यायधीश डीबी भोसले के साथ न्यायमूर्ति यशवंत वर्मा ने सुनवाई की।
मौत को लेकर हाईकोर्ट में कई PIL दायर
बच्चों की मौत को लेकर हाईकोर्ट में कई PIL दायर की गई हैं। वकीलों का कहना था कि इतनी बड़ी घटना के बाद अभी तक मृत बच्चों का पोस्टमार्टम तक नहीं कराया गया और न ही कोई प्राथमिकी ही दर्ज कराई गई। आरोप लगाया गया कि सरकार गलत बयानी कर घटना की लीपापोती कर रही है।
याचिका की सुनवाई कर रहे मुख्य न्यायाधीश डीबी भोसले व न्यायाधीश यशवंत वर्मा का कहना था कि किसी भी प्रकार का न्यायालय से आदेश पारित करने से पहले सरकार का मौत की कारणों को लेकर जवाब आना जरूरी है। सरकार की तरफ से अपर महाधिवक्ता मनीष गोयल ने अदालत से जवाब के लिए समय की मांग की। इस पर अदालत ने सरकार को समय देते हुए 29 अगस्त को पुन: इस मामले पर सुनवाई का आदेश दिया।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.

34 thoughts on “हाईकोर्ट ने मांगा जवाब, गोरखपुर में बच्चों की मौत की असल वजह बताए UP सरकार

Comments are closed.