ईश्वर की भक्ति के लिए ही मिला मनुष्य जीवन:श्री श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज

जालंधर(विनोद मरवाहा)
अखिल भारतीय दुर्गा सेना संगठन (रजि.) की तरफ से प्राचीन शिव मंदिर दोमोरिया पुल में संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष व संस्थापक श्री श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज व गुरु मां नीरज रतन सिकंदर की अध्यक्षता में मां बगलामुखी हवन यज्ञ का आयोजन किया गया।
इस अवसर पर श्री श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज ने उपस्थित माँ भक्तों को आशीर्वचन देते हुए कहा कि हमारे धार्मिक ग्रंथ बताते है कि यह मनुष्य जन्म ईश्वर भक्ति करने के लिए मिला है। इंसान ईश्वर भक्ति को भूलकर संसार की नाशवान वस्तुओं, काम वासनाओं में डूब जाता है और संसार को ही सच समझ बैठता है। जबकि हमारे पवित्र धार्मिक ग्रंथों के अनुसार संसार मे आई हर एक वस्तु नाशवान है। यहां तक कि संसार ही नाशवान है। जो इस संसार में आता है उसे अपना समय पूरा कर संसार से चले जाना है। उन्होंने कहा कि इंसान का संसार में आना तभी सफल हो सकता है जब वह जीवन के रहते हुए ईश्वर की भक्ति कर उसे जान लेता है।


इस हवन यज्ञ के माध्यम से माँ बगलामुखी जी का आशीर्वाद लेने वालों में संगठन के पंजाब प्रधान विशाल शर्मा, जालंधर प्रधान वैभव शर्मा, डीएसपी सुरिंदर कुमार, बबलू शर्मा, अश्वनी यादव, प्रमोद मरवाहा, राकेश महाजन, लीना महाजन, अरुण मिश्रा, विजय बब्बर, अशोक वर्मा, सुरेश गुप्ता, गगन शर्मा, गगन अरोड़ा, सुनील महाजन, पूजा शर्मा, लक्ष्मी शर्मा, अश्वनी यादव, पंकज सिक्का, हेमंत अरोड़ा, अनिल कुमार, दीपक कुमार, राजू मिड्डा, सोनू शर्मा, हेमंत बावा, राजेश जैन, अल्पना, राजन, मीनाक्षी, आशु, कश्मीरी लाल, सुरिंदर कौर, अनूप शर्मा, धीरज जैन, अंजलि गुप्ता, करण अग्रवाल, शंकर दास, गोल्डी जैन,अरविंद ठाकुर आदि के नाम उल्लेखनीय हैं।