गुरु भक्ति से ही मिलते हैं भगवान : श्री श्री108 महाराज स्वामी सिकंदर

जालंधर(विनोद मरवाहा)
गुरू की भक्ति करने से ही भगवान की प्राप्ति होती है। सतगुरु के बिना ज्ञान अधूरा होता है इसलिए सतगुरु के बताए गए मार्ग पर चलकर उनके वचनों का पालन करें।
इन विचारों का जिक्र श्री दुर्गा सेना संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री श्री 108 स्वामी सिकंदर जी महाराज ने संगठन की तरफ से प्राचीन शिव मंदिर, दोमोरिया पुल में आयोजित साप्ताहिक मां बगलामुखी हवन यज्ञ के दौरान संगत को संबोधित करते हुए किया। उन्होंने कहा कि कहा कि गुरु की शरण में आने से आत्मिक शक्ति मिलती है। सतगुरु की बातों का ज्यादा से ज्यादा अनुसरण करें। अच्छे कर्म करने से अच्छा फल मिलता है इसलिए गुरू ज्ञान से जीवन को सफल बनाया जा सकता है।
श्री स्वामी जी ने कहा कि कहा कि दीवानगी केवल परमात्मा के नाम की रखो। यह दीवानगी केवल तब शांत होनी चाहिए, जब ये रूह प्रभु चरणों में समा जाए, रूह इस माया के फेर में आकर अंहकार कर बैठती है। अहंकार में 10 हजार हाथियों का बल होता है। इस अहंकार से भी गुरु के नाम की दीवानगी ही बचा सकती है। उन्होंने कहा कि कलियुग में जो जीव नाम का सहारा ले लेंगे भवसागर पार उतर जाएंगे। इस अवसर पर गुरु माँ नीरजा रतन सिकंदर जी ने भी साधको को आशीर्वाद दिया। पंडित चक्कर प्रशाद जोशी ने गौरी गणेश पूजन कर हवन यज्ञ मे अाहूतिया डाली।
इस अवसर पर संगठन के पंजाब प्रधान विशाल शर्मा, जिला प्रधान वैभव शर्मा, विक्की(यू.एस.ए), रीटा शर्मा, कश्मीरी लाल, इंदरजीत कक्कड़, मुकेश अरोड़ा, विन्नी वोहरा, अमित गुप्ता, राजू शाम चौरासी, राकेश महाजन, लेना महाजन, राजन खन्ना, रजिंदर कुमार, अश्वनी यादव, अमित शर्मा, बलजीत कौर, लक्ष्मी शर्मा, प्रवीण चौधरी, अनुराग अरोड़ा, नरिंदर गुप्ता, सुनील मल्होत्रा, पूजा शर्मा, परवीन हांडा, अरुण शर्मा, अश्वनी मल्होत्रा, पंकज सिक्का, राजू लूथरा, सौरभ शर्मा, राजेश भारद्वाज, विनय शर्मा, मोनिका शर्मा, राजू शर्मा, कृष्ण बब्बर, सुरजीत लूथर, संजय सेतिया, केवल कृष्ण, युग त्रेहन, धीरज मेहता, दुष्यंत वोहरा, लक्ष्मी वोहरा, वीना वोहरा, शालू छाबड़ा, मोहित सिक्का, राजेश सेठ, मोहित जैन, कुसम गुप्ता, रिपन मदान आदि मौजूद थे।