गर्भपात की दवाई बेचते सरकारी अस्पताल की महिला कर्मचारी गिरफ्तार लगा रही थी देश के प्रधानमंत्री की योजना बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ को पलीता

जालंधर(हलचल नेटवर्क)
सोनीपत पीएनडीटी एक्ट के इंचार्ज और डिप्टी सीएमओ डॉक्टर आदर्श को सूचना मिली थी कि सोनीपत अस्पताल में तैनात एक महिला कर्मचारी गर्भपात की दवाई दे रही है जिसपर कार्रवाई करते हुए उन्होंने रेड की.
देश के प्रधानमंत्री जहां बेटियों को बचाने के लिए पूरा प्रयास कर रहे हो लेकिन सोनीपत में एक ऐसा मामला सामने आया है जहां सरकारी अस्पताल की महिला कर्मचारी गर्भपात की दवाई बेचते हुए पकड़ी गई. सोनीपत के सरकारी अस्पताल में तैनात ये महिला कर्मचारी चार हजार रुपये में गर्भपात की दवाई बेचती थी.

दरअसल सोनीपत पीएनडीटी एक्ट के इंचार्ज और डिप्टी सीएमओ डॉक्टर आदर्श को सूचना मिली थी कि सोनीपत अस्पताल में तैनात एक महिला कर्मचारी गर्भपात की दवाई दे रही है जिसपर कार्रवाई करते हुए उन्होंने रेड की.
डॉक्टर आदर्श की टीम ने एक फ़र्ज़ी ग्राहक बनाकर उसे महिला कर्मचारी के पास भेजा और गर्भपात की दवाई मांगी. जिस पर सुनीता नाम की महिला कर्मचारी ने 4 हज़ार रुपए लेकर गर्भपात की दवाई दी. जैसे ही महिला कर्मचारी ने पैसे लेकर दवाई दी डॉक्टर ने उसे रंगे हाथों पकड़ लिया.

महिला कर्मचारी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है. डॉक्टर आदर्श ने बताया कि महिला कर्मचारी से पूछताछ की जा रही है कि उसके साथ और कौन-कौन इस गिरोह में शामिल है.

One thought on “गर्भपात की दवाई बेचते सरकारी अस्पताल की महिला कर्मचारी गिरफ्तार लगा रही थी देश के प्रधानमंत्री की योजना बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ को पलीता

Comments are closed.