ईसाही मिशनरी से शोषित लोगों की उच्च स्तरीय जांच की मांग की जाए : भारत बचाओ मंच

जालंधर(केवल कृष्ण)
भारत बचाओ मंच ने पंजाब के सभी कार्यकर्ताओं की और से भारत सरकार के राष्ट्रपति श्री राजनाथ कोविन्द से मांग की कि इसहियो द्वारा धर्म प्रचार की आड़ में बच्चों ,औरतों और नागरिकों के शोषण को उच्च स्तरीय जांच करा कर रोक लगाई जाए और जो लोग इनसे पीड़ित है उन्हें पुलिस सुरक्षा दी जाए ताकि वह किसी दबाव मे न आए । इसी को लेकर डी सी आफिस में ए डी सी जसवीर सिंह को भारत के राष्ट्रपति के नाम माँग पत्र सोपा।इस दौरान मंच के सदस्य किशनलाल शर्मा ने कहा कि डायोसिस सीएनआई, सूर्य एन्क्लेव जालंधर के बिशप फ्रैंकलिन मुल्लकल पर केरल की एक नन के बलात्कार के आरोप के बाद उस पर मामला वापिस लेने के लिए दबाव डालने का मामला दर्ज होने के बावजूद बिशप की गिरफ्तारी न किए जाने पर हैरानी व्यक्त की है। मंच ने सदस्य मनोज नना ने बताया कि जीरकपुर की एक लड़की द्वारा बलजिंदर सिंह नाम के ईसाही पोस्टर के खिलाफ ,बलात्कार , धोखा, विदेश भेजने का लालच और अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल करने के आरोप के आधार पर दर्ज करवाने के बावजूद इस पर कोई कारवाही न होने पर सवाल उठाए । ज्ञापन में कहा है कि यह व्यक्ति जालंधर शहर के ताजपुर में चर्च चलता है और महिलाओं को मानसिक व शारीरक बीमारी दूर करने था विदेश भेज कर ज़िदगी को स्वर्ग बनाने के झांसे देते है । यह खुद को ईश्वर का पैग़म्बर बताता है और अन्य भी कोई किसम के दावे करते है इसका रिपोर्ट इंडिया टीवी चेंनल पर भी चली थी ।इसी तरह फिरोज़पुर जिला में गुरमीत सिंह पर भी जांच करने की मांग की ।इस मौके पर किशनलाल शर्मा,मनोज नना ,अमरजीत अमरी,विनीत शर्मा,राजीव पंजा, अजमेर बादल, अशवनी, यश पहलवान, विजय कुमार,राजीव यादव, सुनील सहगल,हरजिंदर बडिंग,मोहित , अजय महंत, सनी पाल, मनोहर लाल, कुलदीप ,इंदर देव शर्मा,संजीव प्रैशर,आदि मौजूद रहे।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.