अगले साल से ई-कॉमर्स कंपनियों को MRP के अलावा अन्य जानकारियां भी करनी होंगी प्रिंट

नई दिल्ली (हलचल नेटवर्क)
देश में तेजी से बढ़ते ऑनलाइन शॉपिंग ट्रेंड को देखते हुए सरकार ने कन्ज्यूमर्स के हितों की रक्षा के लिए नया कदम उठाया है। अगले साल से ई-कॉमर्स कंपनियों को MRP के अलावा बाकी जानकारियां भी प्रिंट करनी होंगी। नए नियम 1 जनवरी 2018 से लागू होंगे। कंपनियों को नए नियम लागू करने के लिए 6 महीने का वक्त दिया गया है।
सरकार ने लीगल मेट्रॉलजी (पैक्जेड कमोडिटीज) रूल्स, 2011 में पिछले महीने एक संशोधन किया है। कंपनियों को नए नियम मानने के लिए 6 महीने का समय दिया गया है। जानकारी के मुताबिक ई-कॉमर्स कंपनियों को सामान पर MRP के अलावा उत्पाद बनाने की तारीख, खराब होने की तारीख, कुल वजन, बनाने वाला देश और कन्ज्यूमर केयर डिटेल्स भी प्रिंट करनी होंगी।
मामले की जानकारी रखने वाले एक अधिकारी ने बताया कि कंपनियों को काफी समय दिया जा चुका है। उन्होंने कहा कि जनवरी 2018 से ई-कॉमर्स प्लैटफॉर्म से बिकने वाले सभी प्रॉडक्ट्स पर ये सभी जानकारियां देना अनिवार्य होगा। कंपनियों को ये सभी जानकारियां बड़े शब्दों में दिखानी होंगी जिससे कन्ज्यूमर्स को पढ़ने में कोई दिक्कत न हो।

159 thoughts on “अगले साल से ई-कॉमर्स कंपनियों को MRP के अलावा अन्य जानकारियां भी करनी होंगी प्रिंट

Comments are closed.