कैप्टन सरकार मे गुंडागर्दी, नशे व माफिया का बोलबाला, कानून व्यवस्था चरमराने से गुरू नगरी की जनता मे दहशत का माहौल

अमृतसर(हलचल नेटवर्क)
कांग्रेस की कैप्टन सरकार पंजाब की जनता को वो हर सुविधायें देने मे विफल हो गई है, जिसका वायदा उन्होने अपने चुनावी घोषणापत्र में पवित्र गुटका साहिब पर हाथ रखकर किया था। प्रदेश की जनता को दिया है तो वह नशा, रेत की कालाबजारी, चरमराई कानून व्यवस्था, गुंडातत्व को बल, दशहत का माहौल और झूठे वायदे। कैप्टन अपनी सरकार की नाकामयाबी व भ्रष्ट मंत्रियों के काले कारनामो की गठरी सिर के नीचे लेकर कुमकरणी नींद सो रहे है और जनता त्राहि- त्राहि कर रही है। कैप्टन अमरेंद्र सिह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार के कुशासन की कड़े शब्दों में अलोचना करते हुए भाजपा के जिला महासचिव राजेश कंधारी, मानव तनेजा, राम चावला, प्रदेश मीडिया सह प्रभारी जनार्दन शर्मा ने एक संयुक्त ब्यान मे कहा कि गुरु नगरी श्री अमृतसर मे पिछले लगातार एक सप्ताह मे 4 युवक नशे के कारण मौत के घाट उतर गये हैं। शहर के लोग गुंडात्तवो की दहशत से खौफ की असुरक्षित जिंदगी जीने पर मजबूर हैं।
उन्होने कहा कि पंजाब की चरमराई कानून व्यवस्था के चलते माफिया व गैंगस्टरो का बोलबाला है। नशे को पंजाब से एक माह में खत्म करने का दावा करने वाले कैप्टन अमरेंद्र सिंह अपनी सरकार मे नशे के कारोबारीयो को सरंक्षण देने का काम कर रहे हैं। शहर में हर जगह दिन मे कोई अप्रिय घटना की खबर तो आम हो चुकी है। चैन स्नेकिंग, लूटपाट, चोरी व गोलीबाजी की घटना को अंजाम देने वालो का खुला तमाशा सरकार और प्रशासन देख रहा है। कानून व्यवस्था व पुलिस का खौफ तो जैसे अपराधियों के लिए होंसला बढ़ाने जैसा लग रहा है। कांग्रेस की निकम्मी सरकार ने व्यपारियो, महिलाओं, नौजवानो व हर वर्ग के दिलों मे दहशत व असुरक्षा का भय पैदा किया हुआ है।
भाजपा पदाधिकारियों ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री कैप्टन नशे, गुंडागर्दी, लूटपाट व दहशत के माहौल पर नियंत्रण पाने मे असफल हो गए हैं, तो जनता के दरबार मे माफी मांगे और मुख्यमंत्री के पद से त्यागपत्र दें।
इस अवसर पर बिट्टू चोपड़ा, बलदेव धवन, रमन शर्मा, मन्नू ग्रोवर, तरूण मेहरा, रमन राठौर, सुशील भल्ला, ललित ( लल्ली), संदीप मेहरा आदि कार्यकर्ता उपस्थिति थे।

Please select a YouTube embed to display.

The request cannot be completed because you have exceeded your quota.