गो माँ को जयकारा भी चाहिए और चारा भी चाहिए – स्वामी सज्जनानंद

जालंधर(विनोद मरवाहा)

दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान और कमल वेल्फ़ेयर सॉसायटी द्वारा कबीर नगर में श्री कृष्ण कथा का आयोजन 23 मई से लेकर 27 मई तक किया जा रहा है। जिसका समय शाम 7 से 10 बजे तक रहेगा कार्यक्रम की जानकारी देते हुए स्वामी सज्जनानंद जी ने बताया की कथा का वाचन करने हेतु साध्वी जयंती भारती जी अपनी पूरी टीम के साथ पहुँच रहीं है कार्यक्रम देसी गो के संवर्धन और संरक्षण को लेकर समर्पित है गो सुरक्षित रहेगी तो भारत सुरक्षित रहेगा और भारती का पूरे विश्व के लिए सुरक्षित रहना बहुत ज़रूरी है स्वामी जी ने कथा स्थल पर पहुँचकर पंडाल में चल रही त्यारियों को जायज़ा लिया और कथा के लिए आध्यात्मिक प्रचार सामग्री प्रकाशित की गयी । कथा से पूर्व 22 मई को पूरे कबीर नगर में संध्या फेरी भी निकाली जाएगी जिसमें असंख्य प्रभु भक्त शामिल होकर संकीर्तन करते हुए प्रभु नाम का गुणगान करेंगें। इस अवसर पर श्री पिपलेश्वर मंदिर, मिथलांचल एकता वेलफयर सभा, आर्य समाज वेद मंदिर, पार्षद जतिंदर जिंद, इन्दर प्रकाश अरोरा, राज कुमार धीर, अमरजीत, सतीश गोगी, रछपाल बब्बू और गुरविंदर, देस राज, चंद्र कल्याण और भी लोग उपस्थित रहे।

One thought on “गो माँ को जयकारा भी चाहिए और चारा भी चाहिए – स्वामी सज्जनानंद

Comments are closed.