Shani Gochar 2022: इन लोगों पर किया अत्‍याचार तो नहीं बख्‍शेंगे शनि! जानें प्रकोप से बचने के उपाय

शनि को ज्‍योतिष शास्‍त्र में क्रूर ग्रह माना गया है. वे कर्मों के मुताबिक फल देते हैं. इसलिए शनि के प्रकोप से बचने के लिए विभिन्‍न ज्‍योतिषीय उपाय करने के अलावा अच्‍छे कर्म करने की सलाह दी जाती है. आने वाले 29 अप्रैल को शनि ग्रह राशि परिवर्तन करने जा रहे हैं. शनि का राशि परिवर्तन धनु राशि वालों को साढ़े साती से छुटकारा दिलाएगा तो मीन राशि वालों पर साढ़े साती शुरू होगी. इसी तरह 2 राशि वालों को ढैय्या से राहत मिलेगी तो 2 राशि वालों पर शनि की ढैय्या शुरू होगी.
साढ़े साती-ढैय्या में झेलने पड़ेंगे बुरे फल
शनि की साढ़े साती और ढैय्या के नाम से ही लोग खौफ खाते हैं क्‍योंकि इस समय शनि की इन जातकों पर कड़ी नजर होती है. साथ ही शनि की साढ़े साती और ढैय्या व्‍यक्ति की आर्थिक, मानसिक, शारीरिक स्थिति पर बुरा असर डालती है. लेकिन जिन लोगों के कर्म अच्‍छे होते हैं और उनकी कुंडली में शनि शुभ स्थिति में होते हैं तो शनि उन्‍हें शुभ फल भी देते हैं. वहीं शनि की साढ़े साती और ढैय्या के दौरान भी अपने कर्मों को लेकर जो लोग सतर्क नहीं होते हैं, उन पर शनि बुरी तरह कहर ढाते हैं और उन्‍हें आर्थिक, मानसिक, शारीरिक तौर पर तबाह कर देते हैं.
इन लोगों से नाराज हो जाते हैं शनि
शनि उन लोगों से नाराज होते हैं जो गरीब, असहायों, महिलाओं, मजदूरों, सफाई कर्मचारियों पर अत्‍याचार करते हैं. लिहाजा इन लोगों का शोषण करने और अपमान करने से बचें. पशु-पक्षियों को न सताएं. मांसाहार-शराब का सेवन न करें, जुआ-सट्टा जैसी बुरी आदतों से दूर रहें. झूठ न बोलें, धोखाधड़ी न करें. यदि यह एहतियात नहीं बरतीं तो शनि का कहर झेलना पड़ता है.
ये लोग रहें सतर्क
29 अप्रैल को शनि गोचर करते ही मीन राशि वालों पर शनि की साढ़े साती शुरू होगी. इस तरह मीन, मकर और कुंभ राशि वाले शनि की साढ़े साती के प्रभाव में रहेंगे. वहीं कर्क और वृश्चिक राशि के जातकों पर शनि की ढैय्या शुरू होगी. इस तरह इन पांचों राशि वालों को अपने कर्मों को लेकर बहुत सतर्क रहना चाहिए.