10 साल की प्रेग्नेंट का होगा अबॉर्शन

10 साल की प्रेग्नेंट का होगा अबॉर्शन
रोहतक(हलचल नेटवर्क)
10 साल की बेटी से रेप का आरोपी रिश्ते में सिर्फ सौतेला पिता ही नहीं है, बल्कि बच्ची का चाचा भी लगता है। दरअसल बिहार की रहने वाली महिला के पति की मौत के बाद देवर सुरेश ने शादी की गई थी लेकिन शायद मां को भी इस बात का अंदाजा नहीं होगा कि जिस देवर को बच्चों को जिम्मेदारी सौंपी जा रही है वह सौतेला पिता बनने के बाद बच्ची से रेप करेगा। महिला की 10 साल की बेटी 5 महीने की प्रेग्नेंट है। कोर्ट ने बच्ची की मेडिकल रिपोर्ट देखने के बाद अबॉर्शन या डिलिवरी का फैसला पीजीआई रोहतक पर छोड़ा था। पीजीआई के मेडिकल बोर्ड ने अबॉर्शन कराने का फैसला करते हुए बुधवार को इसका प्रोसेस शुरू कर दिया। रोहतक कोर्ट ने कहा था कि अगर मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेग्नेंसी एक्ट के तहत अबॉर्शन हो सकता है तो अबॉर्शन किया जाए। बच्ची पीजीआई में ही भर्ती है। इससे पहले चाइल्ड वेलफेयर कमिटी ने बच्ची की काउंसलिंग की और उसे दहशत से बाहर निकालने की कोशिश की।
गौरतलब है कि 10 मई को महिला पुलिस स्टेशन को हेल्पलाइन के जरिए 10 साल की एक बच्ची के रेप और उसके प्रेग्नेंट होने की सूचना मिली थी। इसके बाद महिला पुलिस पहुंची तो मामले का खुलासा हुआ। पुलिस को बच्ची की मां ने बताया कि उसके पति ने ही रेप किया है। जिसके चलते उसकी बेटी प्रेग्नेंट हो गई है।